Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Mars Transit 2019 Effects : मंगल का राशि परिवर्तन, क्रूर प्रभाव से बचने के लिए करें राशि के अनुसार ये उपाय

Mars Transit 2019 Effects : मंगल की दो राशिया हैं मेष और वृश्चिक, मंगल का राशि परिवर्तन लगभग 45 दिनों में होता है, इस बार मंगल अपनी शत्रु राशि तुला में प्रवेश करन जा रहे हैं, जिसका सभी राशियों पर शुभ और अशुभ दोनों ही प्रकार का प्रभाव पड़ेगा, मंगल का तुला राशि में गोचर करने पर सभी 12 राशियों के लिए उपाय आइए जानते हैं..

Mars Transit 2019 : मंगल का तुला राशि में प्रवेश, बुरे प्रभाव से बचने के लिए करें राशि के अनुसार ये उपायMars Transit 2019 : मंगल का तुला राशि में प्रवेश, बुरे प्रभाव से बचने के लिए करें राशि के अनुसार ये उपाय

Mars Transit 2019 Effects : मंगल को ग्रहों (Mangal Grah) का सेनापति माना जाता है। ज्योतिष के अनुसार मंगल को पराक्रम का कारक ग्रह माना जाता है। मंगल का राशि परिवर्तन (Mangal Ka Rashi Parivartan) इस साल 2019 में अपनी शत्रु राशि में 10 नवंबर 2019 को कन्या राशि से निकलकर तुला राशि में दोपहर 2:49 बजे प्रवेश करेंगे (Mars Transit In Libra 2019)। इसके बाद 25 दिसंबर 2019 को रात 9:53 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेंगे। जिसका सभी राशियों पर अलग- अलग प्रभाव पड़ेगा। लेकिन यदि आप मंगल के कुछ उपाय करते हैं तो आपको मंगल के नकारात्मक परिणाम नहीं भुगतने पड़ेंगे। मंगल का तुला राशि में गोचर (Mars Transit In Libra) करने पर सभी 12 राशियों के लिए उपाय आइए जानते हैं..


मंगल गोचर मेष राशि के उपाय (Mangal Gochar Mesh Rashi Ke Upay)

मेष राशि के जातकों के लिए मंगल का गोचर सातवें भाव में हो रहा है। मंगल के गोचर के कारण आपके जीवनसाथी का स्वाभाव कुछ गुस्सैल रह सकता है और आपका स्वाभाव कुछ चिड़चिड़ा जिसकी वजह से आप दोनों के बीच में तनाव उत्पन्न हो सकता है। इतना ही नहीं यदि आप व्यापार करते हैं तो आपका अपने पार्टनर के साथ भी झगड़ा हो सकता है। मंगल के अशुभ प्रभाव को कम करने के लिए भगवान शिव की पूजा करें और उन्हें गेहूं दान करें।


मंगल गोचर वृषभ राशि के उपाय (Mangal Gochar Vrisabh Rashi Ke Upay)

वृषभ राशि के लिए मंगल का गोचर छठें भाव में हो रहा है। मंगल के गोचर के कारण आपको अपने शत्रुओं से छुटकारा मिलेगा तो वहीं दूसरी और आपको कोर्ट कचहरी के मामलों से भी छुटकारा मिलेगा। लेकिन इस समय में आपके खर्च अधिक बढ़ सकते हैं। इसके साथ ही आपका गुस्सा भी बढ़ सकता है। मंगल के इन अशुभ फलों को कम करने के लिए उपाय के तौर पर गरीबों या मंदिर में जाकर अनार का दान करें।


मंगल गोचर मिथुन राशि के उपाय (Mangal Gochar Mithun Rashi Ke Upay )

मिथुन राशि के जातकों के लिए मंगल का गोचर पांचवें भाव में होने जा रहा है। इस समय में आपके स्वाभाव में गुस्सा अधिक रह सकता है। जिसकी वजह से आपके प्रेम संबंध खराब हो सकते हैं। इस समय में इस राशि के जातकों को अपने बच्चों पर ध्यान देना चाहिए। क्योंकि इस समय आपके बच्चे को चोट लग सकती है। जिसके कारण उनका रक्तपात भी हो सकता है। मंगल के अशुभ परिणामों को समाप्त करने के लिए उपाय के रूप में गरीबों को या ज़रूरतमंद माँ सम्मान स्त्रियों को लाल मसूर का दान करें


मंगल गोचर कर्क राशि के उपाय (Mangal Gochar Kark Rashi Ke Upay)

कर्क राशि के जातकों के लिए मंगल का यह गोचर चौथे भाव में होने जा रहा है। मंगल के गोचर के कारण आपकी माता का स्वास्थय खराब हो सकता है। इतना ही नहीं उनका स्वाभाव भी चिड़चिड़ा हो सकता है। मंगल के गोचर के कारण के कारण आपको संपत्ति सुख में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। मंगल के इस गोचर के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए आपको उपाय के तौर मंगलवार के दिन भगवान शिव की आराधना करें और उन्हें गुड़ अर्पित करना चाहिए।


मंगल गोचर सिंह राशि के उपाय (Mangal Gochar Singh Rashi Ke Upay)

सिंह राशि वालों के लिए मंगल का गोचर तीसरे भाव में होने जा रहा है। मंगल के इस गोचर के कारण आपके पराक्रम में वृद्धि होगी और आपके छोटे भाई को लाभ भी प्राप्त हो सकता है। इतना ही नहीं इस समय में आपके शत्रु भी आपके सामने आने से कतराएंगे। यदि आप आपका स्वास्थय काफी समय से खराब चल रहा था तो इस समय में आपका स्वास्थय भी ठीक हो जाएगा। मंगल के और भी अधिक शुभ परिणामों को प्राप्त करने के लिए रोज हनुमान चालीसा का पाठ करें।


मंगल गोचर कन्या राशि के उपाय (Mangal Gochar Kanya Rashi Ke Upay)

कन्या राशि के जातकों के लिए मंगल का गोचर दूसरे भाव में होने जा रहा है। मंगल के गोचर के कारण आपकी वाणी में कटूता आ जाएगी। जिसकी वजह से आपका अपनों के साथ झगड़ा भी हो सकता है। इतना ही नहीं आपको कई प्रकार के संकटों का सामना भी करना पड़ सकता है। इसलिए स्वंय की वाणी पर संयम रखें। मंगल के अशुभ परिणामों को कम करने के लिए उपाय के रूप में प्रत्येक मंगलवार हनुमान जी को चोला और लाल रंग के पुष्प अर्पित करें।


मंगल गोचर तुला राशि के उपाय (Mangal Gochar Tula Rashi Ke Upay)

तुला राशि के जातकों के लिए मंगल का गोचर लग्न भाव में होने जा रहा है। मंगल का यह गोचर आपकी राशि में हो रहा है। जिसकी वजह से आपको यह सबसे अधिक प्रभावित करेगा। इस गोचर के कारण आपका स्वाभाव उग्र हो जाएगा। जिसकी वजह से आपके लड़ाई- झगड़े भी अधिक हो सकते हैं। आपको इस समय में किसी भी प्रकार के विवाद में नहीं फंसना चाहिए। मंगल के इस गोचर के अशुभ प्रभाव को कम करने के लिए उपाय के तौर पर मंगलवार के दिन हनुमान जी के मंदिर में लाल चंदन का दान करें।


मंगल गोचर वृश्चिक राशि के उपाय (Mangal Gochar Vrishchik Rashi Ke Upay)

मंगल का गोचर वृश्चिक राशि वालों के लिए बारहवें भाव में होने जा रहा है। मंगल के गोचर के कारण आपके खर्च बढ़ सकते हैं। वहीं इस समय आपका कहीं दूर ट्रांसफर भी हो सकता है। जिसकी वजह से आप काफी परेशान रह सकते हैं। इतना ही नहीं इस समय में आपको शत्रुओं से परेशानी भी हो सकती है। मंगल के इस गोचर के प्रतिकूल प्रभाव को कम करने के लिए उपाय के रूप में प्रत्येक मंगलवार को ॐ भौं भौमाय नम: मंत्र का जाप करना चाहिए।


मंगल गोचर धनु राशि के उपाय (Mangal Gochar Dhanu Rashi Ke Upay)

धनु राशि के लिए मंगल का गोचर ग्यारहवें भाव में होने जा रहा है। मंगल के इस गोचर के कारण आपकी आय में वृद्धि होगी। लेकिन आपके स्वाभाव में इस समय उग्रता रह सकती है। मंगल के इस गोचर के कारण आपकी सभी इच्छाओं की पूर्ति होगी। इस समय में आपकी आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी। मंगल के और भी ज्यादा शुभ परिणाम प्राप्त करने के लिए मंगलवार के दिन ॐ अं अंगारकाय नम: मंत्र का 108 बार जाप करें।


मंगल गोचर मकर राशि के उपाय (Mangal Gochar Makar Rashi ke Upay )

मंगल का गोचर आपकी राशि के दसवें भाव होने जा रहा है। दसवें भाव से कर्म का विचार किया जाता है। मंगल को दसवें भाव का कारक भी माना जाता है। मंगल के इस परिवर्तन के कारण आपको नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है। लेकिन आपके सुखों में किसी प्रकार की कमीं आ सकती है। इतना ही नहीं आपकी माता जी का स्वाभाव भी इस समय में कुछ उग्र हो सकता है। मंगल के शुभ परिणामों को प्राप्त करने के लिए मंगलवार के दिन किसी भी गौशाला में गेहूं दान करें।


मंगल गोचर कुंभ राशि के उपाय (Mangal Gochar Kumbh Rashi Ke Upay)

कुंभ राशि के जातकों के लिए मंगल का गोचर नवम भाव में होने जा रहा है। मंगल के इस गोचर के कारण न केवल आपके भाग्य में वृद्धि होगी। बल्कि आपके पराक्रम में भी वृद्धि होगी। यदि आपका कोई काम काफी समय से अटका हुआ था तो मंगल के इस गोचर के कारण अब वह काम बन जाएगा। मंगल के प्रतिकूल प्रभाव को कम करने और शुभ फलों को बढ़ाने के लिए मंगलवार के दिन गाय को गुड़ खिलाना आपके लिए काफी शुभ रहेगा।


मंगल गोचर मीन राशि के उपाय (Mangal Gochar Meen Rashi Ke Upay)

मंगल का गोचर मीन राशि के जातकों के लिए आठवें भाव में होने जा रहा है। मंगल के इस गोचर के कारण आपको अनेकों प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस समय में आपको किसी दुर्घटना का सामना भी करना पड़ सकता है। इतना ही नहीं इस समय में आपको रक्त संबंधित कोई बिमारी भी हो सकती है। परिवार और धन के लिए भी यह समय ठीक नहीं है। मंगल के अशुभ परिणामों को कम करने के लिए रोज हनुमान जी की पूजा करके उन्हें सिंदूर अर्पित करें।

Next Story
Share it
Top