logo
Breaking

महाशिवरात्रि 2019 तिथि : जानें महाशिवरात्रि कब है 2019 का व्रत एवं शुभ मुहूर्त

महाशिवरात्रि 2019 तिथि : महाशिवरात्रि कब है 2019 (Mahashivratri 2019 Date) में अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो आपको बता दें कि फाल्गुन मास कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि आरंभ समय सायं 16:28 बजे 4 मार्च 2019 को महाशिवरात्रि 2019 (Mahashivratri 2019) है। जबकि 2075 विक्रम संवत के अनुसार महाशिवरात्रि 2019 का व्रत ((Mahashivratri 2019 Vrat) शिव योग, नक्षत्र धनिष्ठा में मगलवार, 5 मार्च 2019 को रखा जाएगा।

महाशिवरात्रि 2019 तिथि : जानें महाशिवरात्रि कब है 2019 का व्रत एवं शुभ मुहूर्त

महाशिवरात्रि 2019 तिथि : महाशिवरात्रि कब है 2019 (Mahashivratri 2019 Date) में अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो आपको बता दें कि फाल्गुन मास कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि आरंभ समय सायं 16:28 बजे 4 मार्च 2019 को महाशिवरात्रि 2019 (Mahashivratri 2019) है। जबकि 2075 विक्रम संवत के अनुसार महाशिवरात्रि 2019 का व्रत ((Mahashivratri 2019 Vrat) शिव योग, नक्षत्र धनिष्ठा में मगलवार, 5 मार्च 2019 को रखा जाएगा।

महाशिवरात्रि का महत्व

बता दें कि सोमवार को भगवान शिव की आराधना का दिन होता है और हर महीने शिवरात्रि मनाई जाती है, लेकिन साल में केवल एक बार ही महाशिवरात्रि आती है। महाशिवरात्रि क्यों मनाई जताई है अगर आपके आपके मन में भी यही सवाल है तो आपको बता दें कि फाल्गुन के महीने की शिवरात्रि पर शिव पार्वती का विवाह हुआ था जिसे महाशिवरात्रि पर्व के रूप में मनाया जाता है।

शिव के रूप

शिव को बाबा बर्फानी, भोलेनाथ, शिवशंकर, शिवशम्भू, शिवशंकर, शंकर, शिवजी, नीलकंठ, रूद्र आदि नामों से पूजा जाता है आदि। कलियुग में भगवान शिव शंकर हिंदू देवी-देवताओं में सबसे ज्यादा लोकप्रिय देवता हैं। देवों के देव महादेव को इंसान ही नहीं असुर भी पूजते हैं। भोलेनाथ को भोले बाबा ऐसे ही नहीं कहा जाता, वे इतने भोले हैं कि असुरों को भी अमर होने का वरदान दे देते हैं।

शिवजी की पूजा विधि

शिवजी की पूजा विधि बहुत ही सरल होती है। शिवलिंग पर एक लौटा जल चढ़ाने मात्रा से मनुष्य का सफल हो जाता है। अगर आपके पास जल चढ़ाने का भी समय नहीं है तो बस एक बार सच्चे मन से भगवान शिव जी को याद कर लें तो शिव प्रसन्न हो जाते हैं और मन चाहा वरदान दे देते हैं। हिन्दू पंचांग के अनुसार भगवान शिव जी की पूजा सामग्री में बिल्वपत्र, शहद, दूध, दही, शक्कर और गंगाजल से जलाभिषेक करने मात्र से बेड़ापार हो जाता है। सावन मास के अलावा श्रद्धालु महाशिवरात्रि के दिन भी कावड़ भरकर गंगाजल लाते हैं और भगवान शिव को स्नान कराते हैं।

महाशिवरात्रि 2019 शुभ मुहूर्त

महाशिवरात्रि पर्व तिथि व शुभ मुहूर्त 2019

महाशिवरात्रि 2019 : 4 मार्च 2019

निशिथ काल पूजा : 24:07 से 24:57

पारण का समय : 06:46 से 15:26 (5 मार्च)

चतुर्दशी तिथि आरंभ : 16:28 (4 मार्च)

चतुर्दशी तिथि समाप्त : 19:07 (5 मार्च)

महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं...

Share it
Top