Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Independence Day 2019 : भारत की कुंडली के अनुसार कैसा रहेगा आजादी का 73 वां साल

भारत अपनी आजादी का 73वां वर्ष मनाने जा रहा है, लेकिन भारत की कुंडली के अनुसार ग्रहों की क्या चाल है, भारत को राजनीति, खेल, सिनेमा और अन्य जगहों पर कितना लाभ और कितनी हानि का सामना करना पड़ेगा, आइए जानते हैं भारत की कुंडली के अनुसार कैसा रहेगा आजादी का 73 वां साल

Independence Day 2019 : भारत की कुंडली के अनुसार कैसा रहेगा आजादी का 73 वां साल

Independence Day 2019 भारत कल अपना 73वां स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) मनाने जा रहा है। भारत की कुंडली की बात करें तो आजादी के भारत ने कई उतार चढ़ाव देखे हैं। सिनेमा जगत, खेल जगत, राजनिति या अन्य श्रेत्र भारत ने हर तरफ अपना परचम लहराया है। लेकिन इस वर्ष भारत की कुंडली क्या कहती है। कैसा रहेगा भारत के लिए आजादी का यह वर्ष । इस वर्ष किन श्रेत्रों में मिलेगी भारत (India) को कामयाबी और किन क्षेत्रों में भारत की मुसीबतें बढ़ सकती हैं। आइए जानते हैं क्या ग्रहों के अनुसार कैसा रहेगा भारत के लिए आजादी का 73वां वर्ष


कैसा रहेगा भारत के लिए स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

भारत को आजादी 15 अगस्त 1947 को मिली थी। जिसके अनुसार भारत की कुंडली वृषभ लग्न और कर्क राशि की बन रही है। जिसमें राहु उच्च होकर बैठा है। भारत की कुंडली में तीसरे भाव में सूर्य, चंद्र, बुध, शुक्र और शनि एक साथ बैठे हुए हैं। जिसे पंच ग्रही योग भी कहा जाता है। जो देश के पराक्रम को दर्शाता है। जिसके अनुसार देश का प्रत्येक व्यक्ति देश की उन्नति में योगदान करता है। भारत की कुंडली के अनुसार दूसरे भाव का स्वामी मंगल है जो गरीबी, आकाल और पैसे की कमीं को दर्शाता है। भारत की कुंडली के अनुसार भाग्य का स्वामी शनि ग्रह बनता है। जो देश को धीरे- धीरे प्रगति की और ले जाता है। गोचर के अनुसार इस समय चौथे भाव का स्वामी सूर्य बारहवें भाव में गोचर कर रहा है। जिसकी वजह से भ्रष्टाचार और अधिक बढ़ सकता है। बृहस्पति के छठे भाव में बैठने के कारण देश को प्रगति करने में परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। लेकिन इसके बाद भी भारत एक महाशक्ति के रूप में उभरा है।


रोजगार के लिए कैसा रहेगा स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

देश की कुंडली वृषभ लग्न और कर्क राशि की बन रही है। भारत के कुंडली में लग्न का स्वामी रोजगार भाव में बैठा हुआ है। जिसकी वजह से रोजगार बढ़ेगा। सरकार भी रोजगार की और अधिक ध्यान देगी। इस समय सरकार सरकारी नौकरी के साथ-साथ स्वरोजगार पर ज्यादा ध्यान देगी।

इसे भी पढ़ें : Independence Day 2019 : स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने का शुभ मुहूर्त


विकास व इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए कैसा रहेगा स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

भारत की कुंडली में छवें भाव मे तुला राशी आ रही है। जिसका स्वामी शुक्र बनता है। शुक्र भारत के घरेलू विकास में अत्याधिक योगदान देगा। भारत में नई सड़के, अस्पताल, जल संसाधन व भवन निर्माण का कार्य बढ़ेगा। जिससे इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत होगा। इसी के साथ लोगों का सामाजिक जीवन स्तर भी सुधरेगा। समाज को सुधारने के कामों में भी तेजी आएगी। लेकिन भारत को प्राकृतिक आपदाओं का सामना भी करना पड़ेगा।


आर्थिक विकास के लिए कैसा रहेगा स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

भारत की कुंडली में धन का स्वामी मंगल बनता है। जो लाभ स्थान पर है। जिसके अनुसार यह भारत के लिए एक अच्छा संकेत है।यह भारत की अर्थव्यवस्था को और भी ज्यादा मजबूती प्रदान करेंगा। अर्थव्यवस्था की स्थिति सुधरेगी। लेकिन सही निर्णय लेने पर भी अधिक ध्यान देना होगा। भारत की व्यापारिक साझेदारी भी इस समय बढे़गी।


विदेश नीति के लिए कैसा रहेगा स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

भारत के लिए 73वां आजादी का वर्ष विदेश नीति में भी शुभ संकेत लेकर आ रहा है। इस समय में भारत की विदेश नीति और भी ज्यादा मजबूत होगी। भारत को इस समय में अन्य देशों का सहयोग भी प्राप्त होगा। भारत का कद अपने पड़ोसी देशों से और अधिक बढ़ेगा। यूएन में भी भारत का कद बढ़ेगा। क्योंकि भारत की कुंडली में तीसरे भाव में बुध और सूर्य एक साथ है। जो बुधादित्य योग बनाते हैं।


पड़ोसी देशों के साथ कैसा रहेगा भारत का संबंध

भारत की कुंडली में राहु भाग्य स्थान पर विराजमान है। इसलिए भारत को पड़ोसी देशों से खतरा है। इस समय में भारत को उन देशों से सर्तक रहना चाहिए जो भारत को अपना मित्र बताते हैं। इस समय में भारत को चीन और पाकिस्तान से विशे, सावाधानी बरतने की आवश्यकता है। क्योकि ये दोनों देश भारत को नुकसान पहुंचा सकते है।

इसे भी पढ़ें : Happy Independence Day 2019 Shayari Wishes Quotes SMS Wallpaper Poster : इंडिपेंडेंस डे शायरी-कोट्स से दे स्वतंत्रता दिवस शुभकामनाएं


भारत की आंतरिक सुरक्षा के लिए कैसा रहेगा स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

इस समय में भारत को गुरु और मंगल का पूरा साथ मिल रहा है। गोचर में भी इस समय भारत के छठवें भाव पर मंगल व गुरू की दृष्टि पड़ रही है। भारत इस समय में आंतरिक और बाहरिक सुरक्षा के लिए भी महत्वपूर्ण नितियां बनाएगा। इस समय में केंद्र में चतुग्रही योग भी बना हुआ है। जो मित्र देशों के साथ को दर्शाता है। देश का माहौल भी खराब करने की कोशिश की जा सकती है। लेकिन सरकार इससे निपटने में सक्षम है। सरकार को जनता की और से पूरा सहयोग प्राप्त होगा।


आईटी व अंतरिक्ष क्षेत्र के लिए कैसा रहेगा स्वतंत्रता दिवस का 73वां साल

भारत की कुंडली के अनुसार चंद्र मंगल का शुभ योग बन रहा है। जो अंतरिक्ष व आईटी के क्षेत्र में कोई बड़ी कामयाबी दिला सकता है। इसके अलावा यह योग दूसरे देशों से भी सहयोग प्राप्त करा सकता है। भाग्य का स्वमी कर्म श्रेत्र में स्थित है और चंद्रमा कर्म के स्वामी के साथ समसप्तक योग बना रहा है। जो आईटी के क्षेत्र के लिए अच्छा माना जाता है।

सिनेमा और खेल जगत के लिए स्वतंत्रता दिवस का 73 वां साल

इस साल देश के कुछ खिलाड़ी भारत का नाम रोशन करेंगे। भारत को इस बार कई पदक मिल सकते हैं। इसके अलावा इस साल बननें वाली फिल्मे देशहित और समाज सुधार की होंगी।

Share it
Top