Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Holi 2020 Date In India : होली की रात के टोटके, तंत्र क्रिया और बुरी नजर को करें होलिका में राख

Holi 2020 Date In India : होली की रात के टोटके आजमाने से आप अपने जीवन के सभी कष्टों को मिटा सकते हैं, होली (Holi) की रात सभी बाधाओं से मुक्ति की रात मानी जाती है, होलिका दहन (Holika Dahan) की यह रात दीवाली के बाद सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती तो चलिए जानते हैं होली की रात के टोटके।

Holi 2020 Date In India : होली की रात के टोटके, तंत्र क्रिया और बुरी नजर को करें होलिका में राखHoli 2020 Date In India : होली की रात के टोटके, तंत्र क्रिया और बुरी नजर को करें होलिका में राख

Holi 2020 Date In India : होली की रात के टोटके अपनाकर आप जीवन के सभी सुखों को प्राप्त कर सकते हैं। होली की यह रात साधना, टोटकों और उपायों के लिए अत्यंत विशेष मानी जाती है। होली का पर्व (Holi Festival) साल 2020 में 10 मार्च 2020 (10 March 2020) को मनाया जाएगा तो चलिए जानते हैं होली की रात के टोटके।

होली की रात के टोटके (Holi Ki Raat Ke Totke)

1. यदि आपको ऐसा की लगता है कि किसी ज्ञात या अज्ञात शत्रु ने आप पर तांत्रिक प्रयोग करा दिया है तो आप होलिका दहन (Holika Dahan) के समय एक नारियल, दो लौंग और पीपल की जड़, थोड़े से काले तिल और पीली सरसों को 21 बार अपने ऊपर से उतारकर होली दहन में डाल दें। ऐसा करने से आपको तंत्र क्रिया से मुक्ति मिल जाएगी।

2. अगर आपके घर में वास्तुदोष है। जिसकी वजह से आपके घर में अक्सर कलह रहता है तो आप होलिका दहन के अगले दिन अपने ईष्ट देव को नमन करके अपने घर के ईशान कोण में गुलाल अर्पित करें और अपने घर के मुख्य द्वार के दोनों और कुमकुम से घर की कोई महिला स्वास्तिक बनाएं और घर के बाहक रंगोली बनाकर सरसो के तेल का चौमुखी दीपक जलाएं और उसमें दो काली मिर्च, काले तिल और थोड़ी सी नाग केसर डाल दें और जब दीपक बुझ जाए तो उसे अपने घर के गमले में दबा दें।


3. यदि आप घर के लोगों के बीच में बनती नहीं है या फिर आपके घर में अक्सर कलेश रहता है तो होली के दिन होलिका (Holika) की अग्नि को अपने घर में लाकर उसमें लोभान और कपूर डालकर उसे अपने पूरे घर में घूमाएं। ऐसा करने से आपके घर की सभी प्रकार की नकारात्मकता दूर हो जाएगी।

Also Read : Holi 2020 Date And Time : होली 2020 में कब है, जानिए शुभ मुहूर्त, महत्व, पूजा विधि और कथा

4. होली के दिन सुबह दो लौंग लेकर उसे गाय के घी में डूबोकर रख दें और शाम के समय वह दोनों लौंग, बताशे और पान के पत्ते को होलिका अग्नि में अर्पित कर दें और इसके बाद भगवान विष्णु से मन ही मन अपनी मन की इच्छा को बोल दें। ऐसा करने से आपकी मनोवांछित इच्छा पूरी हो जाएगी।

5. होलिका दहन के दिन अपने शरीर पर तिल का तेल अवश्य लगाएं और उसके बाद अपने शरीर का उबटन करें। इसके बाद उस शरीर से उतरे हुए उबटन को किसी पात्र में एकत्रित कर लें और शाम के समय होलिका दहन की अग्नि में उसे डाल दें। ऐसा करने से आपके शरीर के सभी प्रकार के रोग समाप्त हो जाएंगे।

6. यदि आपके सभी काम बनते- बनते बिगड़ जाते हैं तो होली के दिन एक नारियल लेकर उसके उस प्रकार से टूकड़े करें की नीचे का हिस्सा एक कोटरी की रूप में बन जाए उसके बाद उस नारियल में एक कपूर, नमक,चमेली का तेल, दूध से बनी मिठाई उसमें रखें उसके बाद इसमें सिंदूर छिड़क दें और बाद में सभी सामग्री को बांधकर रख दीजिए इसके बाद काले हकीक की माला से ऊं ह्रीं क्लीं फट् स्वाहा मंत्र का 11 माला जाप करें। यह सभी सामग्री होलिका की अग्नि में एक दीपक के साथ अर्पित कर दें। ऐसा करने से आपको सभी कामों में सफलता मिलने लगेगी।


7. होलिका दहन के बाद उसकी राख लाकर उसकी स्याही बनाकर लोहे की कील या सिलाई से एक सफेद कागज पर अपना मुकदमा नंबर और अपने शत्रु का नाम लिखें। होलिका में डाल दें और मन ही मन अपनी जीत की प्रार्थना करें। आपके ऐसा करने से आपको जल्द ही आपके मुकदमें से छुटकारा मिल जाएगा।

Also Read : Holi 2020 Date And Time: जानिए शादी के बाद लड़की की पहली होली क्यों होती है अपने मायके में

8. यदि आप अपने शत्रुओं से अत्याधिक परेशान रहते हैं तो होली के दिन साबुत उड़द की काली दाल 38 और चावल के 40 दानें मिलाकर किसी गढ्डे नीचे दबा दें और ऊपर से नीबूं नीचोड़ दें। नींबू निचोड़ते समय अपने शत्रु का नाम अवश्य लेते रहें। ऐसा करने से आपको अपने शत्रुओं से छूटकारा मिल जाएगा।

9. होली के दिन सात गोमती चक्र लें और भगवान विष्णु से प्रार्थना करें की आपकी सभी धन संबंधी परेशानियां समाप्त हो जाए और उन गोमती चक्रों को होलिका की अग्नि में डाल दें। ऐसा करने से आपको कभी भी धन की कोई कमीं नही होगी।

10. यदि आपको संतान प्राप्ति में बाधा आ रही है या फिर आपकी संतान आपकी बात नहीं सुनती है तो होली के दिन भगवान श्री कृष्ण की पूजा अवश्य करें और होली की अग्नि में मिश्री और माखन अवश्य अर्पित करें और भगवान श्री कृष्ण से प्रार्थना करें। ऐसा करने से आपकी संतान संबंधीं सभी प्रकार की परेशानियां समाप्त हो जाएगी।

Next Story
Top