logo
Breaking

Gupt Navratri 2019 : राशि के अनुसार गुप्त नवरात्रि के उपाय, बनेगी बिगड़ी किस्मत

शारदीय नवरात्र की तरह साल में दो बार गुप्त नवरात्रि आते हैं। गुप्त नवरात्रि 2019 में 5 फरवरी 2019 से प्रारम्भ होकर 14 फरवरी को समाप्त हो रहे हैं। गुप्त नवरात्रि की पूजा आषाढ़ और माघ माह के शुक्ल पक्ष में की जाती है। गुप्त नवरात्रों में खास तौर पर तंत्र साधना और दस महाविद्या की पूजा की जाती है। यह दस महाविद्याएं माँ काली, माँ तारा देवी, माँ त्रिपुर सुंदरी, माँ भुवनेश्वरी, माँ छिन्नमस्ता, माँ त्रिपुर भैरवी, माँ धूमावती, माँ बगलामुखी, माँ मातंगी और माँ कमला देवी हैं। अगर दशमी तक आप अपनी राशि के अनुसार गुप्त नवरात्रि के अचूक उपाय कर लें तो आपकी बिगड़ी किस्मत बनाने में देर नहीं लगेगी।

Gupt Navratri 2019 : राशि के अनुसार गुप्त नवरात्रि के उपाय, बनेगी बिगड़ी किस्मत
शारदीय नवरात्र की तरह साल में दो बार गुप्त नवरात्रि आते हैं। गुप्त नवरात्रि 2019 में 5 फरवरी 2019 से प्रारम्भ होकर 14 फरवरी को समाप्त हो रहे हैं। गुप्त नवरात्रि की पूजा आषाढ़ और माघ माह के शुक्ल पक्ष में की जाती है। गुप्त नवरात्रों में खास तौर पर तंत्र साधना और दस महाविद्या की पूजा की जाती है। यह दस महाविद्याएं माँ काली, माँ तारा देवी, माँ त्रिपुर सुंदरी, माँ भुवनेश्वरी, माँ छिन्नमस्ता, माँ त्रिपुर भैरवी, माँ धूमावती, माँ बगलामुखी, माँ मातंगी और माँ कमला देवी हैं। अगर दशमी तक आप अपनी राशि के अनुसार गुप्त नवरात्रि के अचूक उपाय कर लें तो आपकी बिगड़ी किस्मत बनाने में देर नहीं लगेगी।

आगे की स्लाइड्स में जानिए राशि के अनुसार गुप्त नवरात्रि के अचूक उपाय...

Share it
Top