Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए आशुतोष महाराज के बारे में 5 दिलचस्प बातें

लोगों में इनके प्रति इस कदर आस्था है कि डॉक्टरों द्वारा मृत घोषित किए जाने के बाद भी उनके भक्त इन्हें मरा हुआ मानने से इनकार कर रहे हैं।

जानिए आशुतोष महाराज के बारे में 5 दिलचस्प बातें

पंजाब के जालंधर के नूरमहल में करीब 3 साल से एक संस्थान (दिव्य ज्योति जागृति संस्थान) के एक कमरे में फ्रिजर में आशुतोष महाराज के मृत शव को रखा गया है।

लोगों में इनके प्रति इस कदर आस्था है कि डॉक्टरों द्वारा मृत घोषित किए जाने के बाद भी उनके भक्त इन्हें मरा हुआ मानने से इनकार कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- अपने दुश्मन को मात देने के लिए याद रखें चाणक्य की 4 बातें

आशुतोष महाराज के अनुयायियों का मानना है कि वह अभी भी समाधि में लीन हैं, इसलिए उन्हें फ्रीजर में रखा गया है। एक दिन ऐसा अवश्य आएगा जब वह आकर अपने भक्तों को दर्शन देंगे।

इसी कड़ी में आगे आइए जानते हैं उनके जीवन से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें -

  • दिव्य ज्योति जागृति संस्थान’ नाम संस्थान के संस्थापक आशुतोष महाराज भारतीय सनातन परंपरा के वाहक रहे हैं इन्हें आध्यात्मिक गुरु के तौर पर जाना जाता है।
  • माना जाता है कि अच्छे व सिद्ध गुरु की तलाश में आशुतोष महाराज ने बहुत तलाश की लेकिन उन्हें कहीं भी संतुष्टि नहीं मिली और उनकी तलाश जारी रही।

ये भी पढ़ें- 8 साल की उम्र में इस धार्मिक गुरु को लग गई थी चेचक की बीमारी

  • आशुतोष महाराज ने पूरे पंजाब में किया और लोगों से बातचीत कर यह पाया कि उनका मन अशांत है जिसके लिए वह नशे का सहारा लेते हैं।
  • वर्ष 1983 में कभी पैदल यात्रा तो कभी साइकिल से आशुतोष महाराज ने पंजाब हर गांव में जाकर लोगों को यह समझाना शुरू किया कि जब तक तुम स्वयं अंगर से शांत नहीं होगे, तब तक समाज में अशांति इसी तरह से फैलती रहेगी।
  • आशुतोष महाराज का कहना था कि ‘तुम पहले अपनी आंखों से ईश्वर को देख लो, उसके बाद ही मेरी बातों पर विश्वास करो।’
Share it
Top