Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Vinayak Chaturthi 2021 : पौष मास में विनायक चतुर्थी की तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजाविधि, इस दिन सुख, समृद्धि प्राप्त करने के लिए करें ये उपाय

Vinayak Chaturthi 2021 : पौष मास के शुक्ल पक्ष की विनायक चतुर्थी कब है। पूजा का शुभ मुहूर्त, पूजाविधि और इस दिन सुख, समृद्धि प्राप्त करने के लिए क्या उपाय किए जाते हैं।

Vinayak Chaturthi 2021 : पौष मास में विनायक चतुर्थी की तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजाविधि, इस दिन सुख, समृद्धि प्राप्त करने के लिए करें ये उपाय
X

Vinayak Chaturthi 2021 : पंचांग के अनुसार हर माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी के दिन विनायक चतुर्थी का व्रत किया जाता है। इस दिन भगवान गणेश की विधिवत पूजा-अर्चना करने से व्यक्ति की मनोकामनाएं पूरी हो जाती है और व्यक्ति के समस्त संकट दूर हो जाते हैं। तो आइए जानते हैं पौष मास में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि का व्रत किस दिन रखा जाएगा। पूजा का शुभ मुहूर्त, पूजाविधि और इस दिन सुख-सौभाग्य में वृद्धि के लिए आपको क्या करना चाहिए।

Also Read: Shakun Shastra : सच्चा प्यार मिलने से पहले भगवान देते हैं ये संकेत, आपके जीवन में भी हो सकती है किसी खास शख्स की एंट्री


गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त

गणेश विनायक चतुर्थी तिथि

16 जनवरी 2021, दिन शनिवार

चतुर्थी तिथि प्रारंभ

16 जनवरी 2021, सुबह 07:45 बजे से

चतुर्थी तिथि समाप्त

17 जनवरी 2021, सुबह 08:08 बजे।

गणेश चतुर्थी पूजा मुहूर्त

16 जनवरी 2021, 11:29 बजे से 01:33 बजे तक

Also Read: Sankashti Chaturthi calendar year 2021: साल 2021 में संकष्टी चतुर्थी किस माह में कब आएगी, जानिए तिथि व चंद्रोदय समय

चतुर्थी पूजाविधि

  • चतुर्थी तिथि को सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और स्वच्छ वस्त्र पहनकर व्रत का संकल्प लें।
  • इस दिन दोपहर में पूजा का विधान है इसलिए दोपहर के समय पूजास्थल पर एक साफ चौकी पर साफ पीले रंग का आसन बिछाएं और पूजास्थल व गणेश जी की प्रतिमा को गंगाजल छिड़ककर शुद्ध कर लें।
  • इस चौकी पर भगवान गणेश की प्रतिमा अथवा चित्र स्थापित करें।
  • इसके बाद सर्वप्रथम गणेश जी को पीले फूलों और दूर्वा की माला चढ़ाएं या 21 दूर्वा अर्पित करें।
  • इसके बाद सिंदूर से गणेश जी का तिलक करें। और गणेश जी की प्रतिमा के सामने दीपक व धूप जलाएं। और उनके प्रिय लड्डू या मोदक का उन्हें भोग लगाएं।
  • अब गणेश चालीसा का पाठ और गणेश मंत्रों का जप कर भगवान गणेश की आरती करें।

विनायक चतुर्थी के उपाय

  1. शनिवारी गणेश चतुर्थी के दिन सायंकाल के समय काले तिल गणेश जी को अर्पित करें। इससे शनिदेव प्रसन्न होते हैं।
  2. विनायक चतुर्थी पर गणेश जी को पूजा में लाल सिंदूर से तिलक करने पर सभी कार्यों में सफलता की प्राप्ति होती है।
  3. चतुर्थी के दिन गणेश जी को पूजा में दूर्वा जरुर अर्पित करें। इससे आपको रिद्धि-सिद्धि का वरदान प्राप्त होता है।
  4. चतुर्थी के दिन पूजा में गणेश जी को अक्षत जरुर अर्पित करें। इससे आपके सभी संकटों का नाश हो जाता है।
Next Story