Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Surya Grahan 2021 : सूर्य ग्रहण के दिन करें ये उपाय, छप्पड़ फाड़कर होगी आपके घर धन की वर्षा

  • 10 जून 2021 (10 June 2021) , दिन गुरुवार को सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) लगने वाला है।
  • 10 जून का यह शुभ योग काफी सालों के बाद बन रहा है।
  • ग्रहण के समय पर पूजा-पाठ और जाप का विशेष महत्व है।

Surya Grahan 2021 : सूर्य ग्रहण के दिन करें ये उपाय, छप्पड़ फाड़कर होगी आपके घर धन की वर्षा
X

Surya Grahan 2021 : 10 जून 2021 (10 June 2021) , दिन गुरुवार को सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) लगने वाला है और यह शुभ योग काफी सालों के बाद बन रहा है। इस दिन माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए आपके पास बहुत ही अच्छा अवसर है और साथ ही इस दिन आप उनसे पुत्र प्राप्ति का वरदान भी उनसे मांग सकते हैं। जो व्यक्ति ग्रहण काल में उपाय करता है उस उपाय का विशेष महत्व होता है। इस दिन आप जो भी उपाय करेंगे उसका फल आपको कई गुना अधिक मिलेगा। हालांकि 10 जून को पड़ने वाले सूर्य ग्रहण का प्रभाव भारत में नहीं होगा, लेकिन ग्रहण के समय पर पूजा-पाठ और जाप का विशेष महत्व है।

ये भी पढ़ें : Vat Savitri Vrat 2021 : मासिक धर्म के दौरान ऐसे करें वट सावित्री व्रत और पूजन, जानें...

इस दिन आपको ग्रहण काल के दौरान एक कलश तैयार करना है। तथा उस कलश के ऊपर आपको लग्न नारियल रखना चाहिए।

तांबे के कलश में चावल भरकर उसके ऊपर नारियल रखें। साथ ही माता लक्ष्मी की प्रतिमा अथवा तस्वीर के सामने आपको पूजा संबंधित कुछ विशेष सामान रखना है।

ग्रहण के दिन सुबह के समय भगवान सूर्यदेव को जल अर्पित जरुर करें। क्योंकि भगवान सूर्यदेव की आराधना से हमारे सभी कार्य सिद्ध हो जाते हैं।

इस दिन भगवान सूर्यदेव के मंत्रों का जाप करते हुए उन्हें जल अर्पित करते हुए चावल, रोली, शक्कर, लाल पुष्प मिश्रित जल सूर्य भगवान को अर्पित करें। ऐसा करने भगवान सूर्यदेव कर्ण के समान तेजस्वी पुत्र प्राप्ति का आशीर्वाद आपको देते हैं और ही आपका शरीर निरोगी रहेगा। हर प्रकार की परेशानियां और हर प्रकार के कष्ट दूर हो जाएंगे।

इसके बाद भगवान विष्णु के सामने और माता लक्ष्मी की तस्वीर के सामने अथवा भगवान शालिग्राम जी को सात पत्ते तुलसी के अर्पित करने चाहिए। भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करते हुए ये कार्य संपन्न करना चाहिए। साथ ही आपको दो हल्दी की गांठ, पांच कमलगट्टा, दो पीली कौड़ी और दो गोमती चक्र भगवान को अर्पित करने चाहिए। इसके बाद श्रीमहालक्ष्मी नम: मंत्र का 1100 बार जाप करना चाहिए। ऐसा करने के बाद में आप पीले कपड़े में इस सभी पूजा सामग्री को बांधकरके अपनी तिजोरी में रख दें।

10 जून को वट सावित्री व्रत होने के कारण बरगद की पूजा का भी विशेष महत्व है। इस दिन आप वट वृक्ष के नीचे जाकर दीपक जलाएं और वहां पर धूप जलाए तथा थोड़े से चावल और मिष्ठान चढ़ाकर सात बार कच्चा सूत लपेटकर अपनी मनोकामना वरगद के वृक्ष से कहें। ऐसा करने से आपको छप्पड़ फाड़ कर धन की प्राप्ति होगी। आपके ऊपर माता लक्ष्मी की भरपूर कृपा बरसेगी।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story