Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शनिवार के दिन ऐसे करें पीपल की पूजा, आपके जीवन से परेशानियां होंगी समाप्त

  • पीपल में शनिदेव (Shani Dev) का वास माना जाता है।
  • शनिदेव (Shani Dev) कहते है शनिवार को जो मनुष्य नियमित रूप से पीपल का स्पर्श करते हैं मैं उनको कभी कष्ट नहीं देता।

शनिवार के दिन ऐसे करें पीपल की पूजा, आपके जीवन से परेशानियां होंगी समाप्त
X

शनिवार का दिन नवग्रह परिवार में न्‍याय के देवता माने जाने वाले शनिदेव को समर्पित होता है। पीपल में शनिदेव का वास माना जाता है। इस संबंध में ब्रह्म पुराण में भी बताया गया है। ब्रह्म पुराण के अनुसार शनिदेव कहते है शनिवार को जो मनुष्य नियमित रूप से पीपल का स्पर्श करते हैं उनके सब कार्य सिद्ध हो जाते हैं तथा मैं उन्हें किसी भी प्रकार की कोई पीड़ा नहीं देता हूं। तो आइए जानते हैं ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास के अनुसार शनिवार के दिन पीपल से जुड़े कुछ उपायों के बारे में जिनके करने से हमारी सारी दुख तकलीफें दूर हो जाती हैं और हमारे घर में धन की देवी माता लक्ष्‍मी का वास होता है।

Also Read : Jyotish Shastra : केतु के नकारात्मक प्रभाव को ऐसे करें कम


ऊं नम: शिवाय का जप

शनिवार को पीपल के वृक्ष का दोनों हाथों से स्पर्श करते हुए भगवान शिव के मंत्र 'ऊं नमः शिवाय' का एक माला जप करने से आपके जीवन से दुख, कठिनाई एवं ग्रहदोषों का प्रभाव समाप्त हो जाता है। पीपल की पूजा करने से भगवान शिव भी प्रसन्‍न होते हैं और शनिदेव भगवान शिव को अपना गुरु मानते हैं। शिवजी को प्रसन्‍न करने पर शनिदेव भी आपको कष्‍ट नहीं देते हैं।


पीपल की जड़ का उपाय

प्रत्येक शनिवार की शाम को स्‍वच्‍छ वस्‍त्र धारण करके दिन छिप जाने के बाद पीपल की जड़ में जल अर्पित करके आप वहां सरसों के तेल का दीपक जला दें। इस उपाय से आपके ऊपर शनि की दशा का प्रभाव कम होता है और अनेक कष्टों का निवारण होता है। आपको पीपल की पूजा के साथ ही हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए और पीपल की पांच बार परिक्रमा करनी चाहिए।


कारोबार और आर्थिक समृद्धि का उपाय

ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास ने अनुसार शनिवार के दिन पीपल की जड़ में दूध और गुड़ मिश्रित जल अर्पित करें और भगवान श्रीकृष्ण से प्रार्थना करें कि प्रभु! आपने गीता में कहा है कि वृक्षों में मैं पीपल हूं। हे भगवान! मेरे जीवन में यह परेशानी है। आप कृपा करके आप मेरी यह परेशानी, (मन में जो भी परेशानी हो उसका नाम लें) दूर करने की कृपा करें। पीपल का स्पर्श करें एवं चारों ओर परिक्रमा करें।


सूर्यास्‍त के बाद करें यह उपाय

शनिवार की शाम सूर्यास्‍त के बाद किसी पुराने पीपल के पेड़ के पास जाएं। अपने साथ थोड़ी सी लाल स्‍याही या फिर कोई लाल पेन, थोड़ा लाल कपड़ा और कलावा लेकर जाएं। इसके अलावा गाय के घी का आटे से दीपक लेकर जाएं। और सबसे पहले पीपल के नीचे दीपक जला दें। दीपक के सम्‍मुख खड़े होकर हनुमान चालीसा का पाठ करें। अब उस पीपल के पेड़ के एक बड़े पत्‍ते पर लाल स्‍याही से अपनी मनोकामना लिख दें और उसकी डाली पर सात बार कलावा लपेट दें। अब उस कलावे को सात बार घुमाकर अपने हाथ में बांध लें। फिर इस पीपल के पेड़ की जड़ के पास की कुछ मिट्टी लेकर लाल कपड़े में बांधकर घर में अपने धन के स्‍थान पर रख दें। आपकी सभी मनोकामनाएं जल्‍द पूरी होंगी।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

और पढ़ें
Next Story