Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

घर में कछुआ स्थापित करने के नियम, लाभ आप भी जानें

हिन्दू धर्म ही नहीं बल्कि कई और भी ऐसे धर्म हैं जिनमें कछुआ की अंगुठी पहनना या कछुआ की प्रतिमा को घर में रखना बहुत ही शुभ माना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान विष्णु का एक रुप कछुआ भी था। भगवान विष्णु ने समुद्र मंथन के समय मदरांचल पर्वत को कछुआ के रुप में अपनी पीठ पर धारण कर उसका भार और संतुलन बनाए रखा था। और इसी कारण समुद्र मंथन के दौरान सभी समस्याओं का अंत हुआ था। ऐसे में शास्त्रों में यह कहा गया है कि जो व्यक्ति कछुआ की प्रतिमा अगर अपने घर पर रखता है तो सदैव भगवान विष्णु के साथ ही उसे माता लक्ष्मी की कृपा भी उसे प्राप्त होती है। और उसे अनेक प्रकार के लाभ होते हैं। तो आइए आप भी जानें कि कछुआ की अंगुठी पहनने अथवा कछुआ की प्रतिमा घर में रखने के नियम और आपको किस तरह के लाभ हो सकते हैं।

घर में कछुआ स्थापित करने के नियम, लाभ आप भी जानें
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

हिन्दू धर्म ही नहीं बल्कि कई और भी ऐसे धर्म हैं जिनमें कछुआ की अंगुठी पहनना या कछुआ की प्रतिमा को घर में रखना बहुत ही शुभ माना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान विष्णु का एक रुप कछुआ भी था। भगवान विष्णु ने समुद्र मंथन के समय मदरांचल पर्वत को कछुआ के रुप में अपनी पीठ पर धारण कर उसका भार और संतुलन बनाए रखा था। और इसी कारण समुद्र मंथन के दौरान सभी समस्याओं का अंत हुआ था। ऐसे में शास्त्रों में यह कहा गया है कि जो व्यक्ति कछुआ की प्रतिमा अगर अपने घर पर रखता है तो सदैव भगवान विष्णु के साथ ही उसे माता लक्ष्मी की कृपा भी उसे प्राप्त होती है। और उसे अनेक प्रकार के लाभ होते हैं। तो आइए आप भी जानें कि कछुआ की अंगुठी पहनने अथवा कछुआ की प्रतिमा घर में रखने के नियम और आपको किस तरह के लाभ हो सकते हैं।

घर में हमेशा चांदी का कछुआ या पीतल का कछुआ ही लेकर आएं। और इस कछुए को चौड़े तांबे के वाउल या कांच के वाउल में पानी भरकर स्थापित करें। लेकिन आप बगैर कछुआ की पूजा करे उसे अपने घर में स्थापित ना करें। कछुआ को आप जब भी अपने घर में रखें तो उत्तर-पूर्व कोने में ही रखें। कछुआ को हमेशा घर के अन्दर आने वाली स्थिति में ही रखें। वहीं आपके आफिस में भी कछुआ बाहर से आने वाली स्थिति में ही हो। क्योंकि ऐसा करने से माता लक्ष्मी के आगमन के संकेत बनते हैं।

कछुआ की प्रतिमा जब भी आप अपने घर लेकर आए तो गुरुवार के दिन ही लेकर आए। क्योंकि गुरुवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित है। ऐसा कहा जाता है कि खास कर गुरुवार के दिन कछुआ अपने घर में अवश्य लाएं। इस दिन कछुआ लाने से आपको भगवान विष्णु के साथ में माता लक्ष्मी की कृपा भी प्राप्त होती है।

कछुआ घर में रखने से परिवार के लोगों की आयु लंबी होती है। और साथ ही कई सारी बीमारियों का भी खात्मा हो जाता है।

माना जाता है कि घर में कछुआ रखने से धन की प्राप्ति होती है। क्योंकि कि ऐसा करने से आपको भगवान विष्णु के आशीर्वाद के साथ में माता लक्ष्मी का आशीर्वाद भी प्राप्त होता है।

कछुआ बहुत ही शुभ माना जाता है। इसलिए कहा जाता है कि इसे पास में रखने से नौकरी और परीक्षा में सफलता मिलती है।

जो व्यक्ति नियमित रुप से कछुआ का दर्शन करता है उस व्यक्ति और उसके परिवार पर सकारात्मक ऊर्जा का असर हो जाता है। ऐसे में आपके ऊपर लगा नजर दोष अथवा आपके परिवार पर लगा नजर दोष समाप्त हो जाता है।

कर्ज में डूबे व्यक्ति को अपने घर में कछुआ अवश्य रखना चाहिए। क्योंकि यह प्रतिमा आपके सभी कष्टों को हर लेती है।

अगर आप नया व्यापार शुरू करना चाहते हैं तो आपको हमेशा इस बात का ध्यान होना चाहिए कि कछुआ की प्रतिमा चांदी से ही निर्मित हो।

घर में कछुआ रखने से परिवार के सदस्यों के बीच में सुख-शांति बनी रहती है। और पति-पत्नी में प्रेम बना रहता है।

कछुआ की पीठ बहुत मजबूत होती है, वह भारी से भारी वस्तु को भी अपनी पीठ पर सह लेता है। इसलिए कछुआ हमारे ऊपर आने वाली परेशानियों को भी सहन कर जाता है।

घर में कछुआ होने से माता लक्ष्मी बहुत प्रसन्न होती हैं। ऐसे में दोनों की कृपा व्यक्ति के ऊपर बरसती है।

Next Story