Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Weekly Rashifal : जानें कैसा होगा आपका मार्च महीने का दूसरा सप्ताह (8 मार्च से 14 मार्च 2021)

  • राशि के अनुसार जानें कैसा रहने वाला है आपका यह सप्ताह
  • अपनी राशि के अनुसार जानें इस सप्ताह के उपायों के बारे में
  • जानें इस सप्ताह आप भाग्य क्या आपका साथ नहीं देगा

Weekly Rashifal : जानें कैसा होगा आपका मार्च महीने का दूसरा सप्ताह (8 मार्च से 14 मार्च 2021)
X

Weekly Rashifal : मार्च माह के दूसरे सप्ताह (8 मार्च से 14 मार्च 2021) का राशिफल। कैसा रहने वाला है आपका यह सप्ताह, आइए जानते हैं ज्योतिषाचार्य अनीष व्यास के अनुसार आज का राशिफल...

ये भी पढ़ें : Jyotish Shastra : माता लक्ष्मी का आशीर्वाद और धन प्राप्ति के ये अचूक उपाय, जानिए...


मेष राशि

मेष राशि वाले लोगों के लिए नवम में चंद्रमा है और उन्हें भाग्य और पिता का साथ भी मिलेगा। आपके सभी काम अच्छे से चलते रहेंगे। हो सकता है कि आपको इस सप्ताह कोई सुखद सूचना भी मिल जाए। यात्रा पर जाने के योग भी बनेंगे और सप्ताह के बीच में कार्य की अधिकता रहेगी। आपका कोई बड़ा सरकारी काम भी बन सकता है। संतान से सुख मिलेगा और सप्ताह के अंत में आय में वृद्धि हो सकती है। मांगलिक कार्यों में जाने का मौका भी मिलेगा। नौकरी में कुछ विवाद हो सकते हैं, लेकिन विद्यार्थियों के लिए यह सप्ताह अच्छा रह सकता है। आपको सर्दी और सिरदर्द हो सकता है। शिवजी को आक का फूल अर्पण करें।

उपाय : मछलियों को आटा डालें।


वृषभ राशि

चंद्रमा दशम भाव में रहेगा और आपके लिए सोमवार और मंगलवार बहुत ही व्यस्त दिन रह सकते हैं। परिवार का साथ बना रहेगा और नए व्यवसायिक संबंध भी बन सकते हैं। काम में बढ़त होगी और आपके मन के हिसाब से काम होगा। बुधवार एवं बृहस्पतिवार को आय में वृद्धि हो सकती है। रूका हुआ धन भी प्राप्त हो सकता है और विवादों में विजय मिलेगी। शुक्र एवं शनिवार को समय अनुकूल है। प्रेमी-साथी से अनबन हो सकती है। शिवजी को दूध में जल मिलाकर अर्पण करें।

उपाय : गणेश जी को मोदक का भोग लगाएं।


मिथुन राशि

चंद्रमा सप्तम भाव में है और पारिवारिक खुशियों के मिलने के योग बन रहे हैं। आपकी आय बेहतर बनी रहेगी और कुशलता से आप अपना काम कर पाएंगे। आपके मन में रोष हो सकता है। मंगल एवं बुधवार को ज्यादा बेचैनी होगी और भविष्य को लेकर ज्यादा चिंता हो सकती है। आय में कमी आएगी, लेकिन खर्च ज्यादा हो सकता है। बृहस्पतिवार को संभलने का मौका मिल सकता है, लेकिन प्रोफेशन-कारोबार में समस्याएं आएंगी ही। शिवलिंग पर तीन बेलपत्र अर्पण करें।

उपाय : हनुमान चालीसा का पाठ करें।

ये भी पढ़ें : Maha Shivratri 2021 : महाकाल मंदिर उज्जैन में महाशिवरात्रि उत्सव प्रारंभ, जानें किस दिन कैसा होगा बाबा का श्रृंगार


कर्क राशि

बेकार की बातों में समय बर्बाद हो सकता है। चिंताएं हावी रहेंगी और इसकी वजह से कुछ गलत निर्णय भी हो सकते हैं। ध्यान से काम करने पर ही फायदा होगा। विरोधी सक्रिय हो सकते हैं। मंगल एवं बुधवार को समय ठीक रहेगा, कार्यों में सफलता भी मिल सकती है और घर-परिवार के सदस्यों का सहयोग प्राप्त होगा। यात्रा पर जाने का योग बना हुआ है और बृहस्पतिवार को मिलने वाले लोगों से मतभेद हो सकता है। शुक्रवार एवं शनिवार को फिर से मन उदास रहेगा। शिवजी को चंदन एवं अक्षत अर्पण करने से भाग्य में सुधार होगा।

उपाय : गणेश जी के दर्शन करें।


सिंह राशि

चंद्रमा पंचम भाव में है और सप्ताह की शुरुआत अच्छी होगी। काम में तेजी रहेगी और संतान से खुशखबरी मिल सकती है। आपको हर तरफ से सहयोग मिल सकता है और नए काम भी अच्छे से होगा। मंगलवार और बुधवार को आपका मन कुछ चिंता में रहेगा। हो सकता है कि किसी से कोई विवाद भी हो और किसी के द्वारा आपका अपमान भी हो। बृहस्पतिवार का दिन अच्छा रहेगा और शुक्रवार व शनिवार को सुख की प्राप्ति होगी। आलस बिलकुल भी न करें और अच्छे भाग्य के लिए शिवजी को शाम के समय घी का दीपक जलाए।

उपाय : भगवान शिव के दर्शन करें।


कन्या राशि

कन्या राशि वालों का चंद्रमा छठे भाव में हैं और इस दौरान आपका मन काम में नहीं लगेगा एवं निगेटिविटी हो सकती है। किसी अपने ही व्यक्ति से धोखा मिल सकता है और आपकी आय भी प्रभावित हो सकती है। काम करने में बिना बात ही बाधाएं आ सकती हैं। मंगलवार एवं बुधवार के बाद चंद्र की अनुकूलता से सही तरीके से काम होंगे। धन की आवक भी बढ़ेगी और सहयोग भी मिलेगा। सप्ताह के अंत में फिर से चिंता बढ़ सकती है और विवाद भी होंगे। शिवजी को शिव पंचाक्षर स्त्रोत का पाठ सुनाएं।

उपाय : पक्षियों को दाना डालें।


तुला राशि

चंद्रमा तीसरे भाव में है और पराक्रम बेहतर होगा तथा भाइयों का साथ प्राप्त होगा। भाग्य पूरी तरह से सहयोग करने वाला बना हुआ है और काम में विस्तार भी होगा और नई योजनाएं भी बन सकती हैं। मंगलवार एवं बुधवार को आय स्थिर होगी और मन अच्छा हो सकता है। काम में रुकावट बनी रहेगी और हो सकता है कि आपको चिंता हो। बृहस्पतिवार को समय अच्छा बीतेगा और संतान से सुख भी मिलेगा। शिवजी को मक्खन और मिश्री का भोग लगाएं।

उपाय : हनुमान जी के दर्शन करें।


वृश्चिक राशि

सप्ताह की शुरुआत में काम में अधिकता रहेगी। ज्यादातर कार्य ऐसे होंगे जो बेकार के होंगे। योजनाओं को पूरा होने में समय लगेगा। त्वचा में समस्या हो सकती है। संबंधियों से विवाद हो सकता है। हालांकि, आवश्यक धन आपको समय पर मिल सकता है। दोस्तों का सहयोग भी मिलता रहेगा। शुक्रवार और शनिवार को संघर्ष होगा। शिवजी को कच्चा दूध अर्पण करें।

उपाय : हनुमान चालीसा का पाठ करें।


धनु राशि

चंद्रमा का गोचर रहेगा। ये समय धन की प्राप्ति के लिए बेहतर है। आपको कई कामों में सफलता मिल सकती है। हो सकता है कि आपकी जिम्मेदारियां बढ़ जाए। धार्मिक यात्रा पर जाने का योग है। मांगलिक उत्सवों में शामिल होने का मौका मिलेगा। मंगलवार एवं बुधवार को शुभ सूचनाएं मिल सकती हैं। हफ्ते के आखिर में परिवार के साथ रहने का मौका मिलेगा। शिवजी को बेल पत्र एवं आक के फूल अपर्ण करें।

उपाय : गणेश जी को दूर्वा अर्पित करें।


मकर राशि

मंगवार का दिन आर्थिक परेशानियों के साथ अन्य समस्याएं लेकर आएगा। काम में बाधा आएगी और किसी से साथ नहीं मिलेगा। उसके बाद समय हर तरह से सही हो सकता है। अच्छी खबरें मिलेंगी और साथियों साथ भी मिलेगा। शुक्रवार एवं शनिवार को सहयोग संबंधियों का सहयोग मिलेगा और नई योजनाएं बनेंगी। शिवजी को सफेद फूल चढ़ाएं।

उपाय : कन्या को भोजन कराएं।


कुंभ राशि

सोमवार और मंलवार को आय अच्छी होगी और काम में सफलता मिलेगी साथ ही साथ सहयोग की प्राप्ति भी होगी। बुधवार का दिन इसके विपरीत रह सकता है। क्रोध एवं झल्लाहट में नुकसान होगा। संयम से काम लेना ही बेहतर होगा। ज्यादा खर्च अच्छा नहीं होगा और गुरुवार को स्थिति थोड़ी बेहतर हो सकती है। शुक्रवार एवं शनिवार को समय सामान्य से अच्छा हो सकता है। शिवलिंग पर केसर मिला हुआ दूध अर्पण करें।

उपाय : भगवान शिव के दर्शन करें।


मीन राशि

सप्ताह की शुरुआत का समय हर तरह से मंगलकारी हो सकता है। विदेश जाने की इच्छा रखने वालों को भी सफलता मिलेगी। शुभ सूचनाएं मिल सकती हैं और कार्य समय पर संपन्न होंगे। हफ्ते के बीच का समय आर्थिक मामलों में सबसे अच्छा रहेगा। अटके धन की प्राप्ति हो सकती है। योजनाएं सफल होंगी। धार्मिक यात्राएं भी हो सकती हैं। शिवजी को चावल एवं चदंन अर्पित करें।

उपाय : संकट मोचन का पाठ करें।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story