Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कृष्ण की नगरी में 20 से शुरू होगा युगल महोत्सव, वृंदावन में विदेशों से पहुंचेंगे बांके बिहारी के भक्त

युगल महोत्सव का शुभारंभ 20 मार्च को वृंदावन के छटीकरा रोड स्थित वैजयंती धाम में होगा। युगल महोत्सव के बाद 29 मार्च से इसी स्थान पर ठा. श्रीश्री राधादयितजी महाराज का 55वां पाटोत्सव मनाया जाएगा।

कृष्ण की नगरी में 20 से शुरू होगा युगल महोत्सव, वृंदावन में विदेशों से पहुंचेंगे बांके बिहारी के भक्त
X

वृंदावन के छटीकरा रोड स्थित वैजयंती धाम में 20 मार्च से युगल महोत्सव शुरू हो जाएगा। 29 मार्च तक चलने वाले इस महोत्सव के दौरान मोरारी बापू रामकथा सुनाकर भक्तों को निहाल करेंगे। खास बात है कि युगल महोत्सव की समाप्ति के बाद इसी स्थान पर ठा. श्रीश्री राधादयितजी महाराज का 55वां पाटोत्सव भी मनाया जाएगा। इसमें गौर पूर्णिमा उत्सव, दिव्य संत समागम और फूल होली महोत्सव भी होगा।

देश के प्रसिद्ध भागवताचार्य श्री पुंडरीक महाराज ने पत्रकारवार्ता में बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वृंदावन कुंभ की ऐतिहासिक व्यवस्थाएं कराकर विश्व स्तर पर इस वृंदावन कुंभ की पहचान बनाई है। उन्होंने बताया कि श्रीमन्माध्वगौड़ेश्वर वैष्णवाचार्य स्वामी चैतन्य कृष्णाश्रय तीर्थ जी महाराज की जन्म शताब्दी महोत्सव व दशम तिरोभाव उत्सव के रूप में श्रीसद्गुरु युगल महोत्सव की शुरुआत 20 मार्च से होगी। 29 मार्च तक चलने वाले इस महोत्सव में संत मोरारी बापू रामकथा सुनाएंगे। कथा को सुनने के लिए अनेक राज्यों के महामहिम राज्यपाल महोदय कार्यक्रम में भाग लेंगे तथा कई राज्यों के मंत्री भी यहां पुण्य लाभ कमाने आएंगे।

उन्होंने बताया कि युगल महोत्सव का शुभारंभ 20 मार्च को वृंदावन के छटीकरा रोड स्थित वैजयंती धाम में होगा। पहले दिन शाम चार बजे मोरारी बापू की कथा शुरू होगी। इसके बाद 21 से 28 मार्च तक सुबह साढ़े बजे से रामकथा सुनाएंगे। 29 मार्च को इसी स्थान पर ठा. श्रीश्री राधादयितजी महाराज का 55वां पाटोत्सव भी मनाया जाएगा। इसमें गौर पूर्णिमा उत्सव, दिव्य संत समागम और फूल होली महोत्सव भी होगा। महोत्सव में हिस्सा लेने के लिए देश के विभिन्न शहरों से संत और श्रद्धालु आएंगे। विदेशों में रह रहे श्रद्धालु भी इस महोत्सव में शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि यहां श्रद्धालुओं की संख्या कई हजार में होगी। कोविड 19 की गाइडलाइंस का पालन सुनिश्चित करते हुए सभी आयोजन धूमधाम से मनाए जाएंगे।

Next Story