Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Pradosh Vrat: प्रदोष व्रत के दिन जरुर करें ये उपाय, हर मनोकामना हो जाएगी पूर्ण

Pradosh Vrat: प्रदोष व्रत भगवान शिव का परम प्रिय व्रतों में से एक है, जोकि महीने में दो बार किया जाता है। अब फाल्गुन माह का कृष्ण प्रदोष व्रत आने ही वाला है। वहीं फाल्गुन मास में भगवान भोलेनाथ की कृपा तो वैसे ही शिवभक्तों पर बनी रही है, लेकिन फिर भी अगर आपको कोई कार्य अटक गया है अथवा आपसे वह कार्य नहीं हो रहा है, नौकरी में समस्या उत्पन्न हो गई है या कारोबार में परेशानी हो गई है, आपको कोई भी कार्य है जिसके लिए आप परेशान है तो आप प्रदोष काल के दिन सीधे महादेव की शरण में चले जाएं।

Bhaum Pradosh Vrat: आर्थिक परेशानी और कर्ज मुक्ति के लिए आज जरुर करें इन मंत्रों का जप, वरना...
X

Pradosh Vrat: प्रदोष व्रत भगवान शिव का परम प्रिय व्रतों में से एक है, जोकि महीने में दो बार किया जाता है। अब फाल्गुन माह का कृष्ण प्रदोष व्रत आने ही वाला है। वहीं फाल्गुन मास में भगवान भोलेनाथ की कृपा तो वैसे ही शिवभक्तों पर बनी रही है, लेकिन फिर भी अगर आपको कोई कार्य अटक गया है अथवा आपसे वह कार्य नहीं हो रहा है, नौकरी में समस्या उत्पन्न हो गई है या कारोबार में परेशानी हो गई है, आपको कोई भी कार्य है जिसके लिए आप परेशान है तो आप प्रदोष काल के दिन सीधे महादेव की शरण में चले जाएं और उनसे उस संबंधित कार्य को पूरा होने के विषय में प्रार्थना करें। वहीं प्रदोष काल में की गई पूजा और उपाय महादेव शीघ्र ही स्वीकार कर लेते हैं और अपने भक्तों के दुखों को दूर करते हैं। तो आइए जानते हैं इस फाल्गुन कृष्ण प्रदोष के दिन ऐसे ही उपायों के बारे में...

ये भी पढ़ें: Vastu Shastra: सुबह उठते ही रसोईघर में भूल से भी ना देखें ये चीज, वरना हो जाओगे कंगाल

फाल्गुन कृष्ण प्रदोष व्रत 2022

फाल्गुन कृष्ण प्रदोष व्रत तिथि

28 फरवरी 2022, दिन सोमवार को फाल्गुन कृष्ण प्रदोष व्रत रखा जाएगा।

त्रयोदशी तिथि प्रारंभ

28 फरवरी प्रात: 05:42 मिनट बजे से

त्रयोदशी तिथि समाप्त

01 मार्च को प्रात: 03:16 बजे

प्रदोष व्रत पूजा का मुहूर्त

सोम प्रदोष के दिन शाम में 06:20 बजे से रात 08:49 बजे के तक प्रदोष पूजा का शुभ मुहूर्त है।

उपाय

प्रदोष काल में मान लो कोई काम आपका बहुत जरुर है और वो पूरा नहीं हो रहा है और आप प्रयास करते-करते थक गए हैं वो नहीं हो रहा है। कर्जा बढ़ रहा है, धन नहीं आ रहा है। व्यापार में लाभ नहीं मिल रहा है या आपके जीवन में कोई समस्या बहुत प्रबल है, आप एग्जाम में बैठ रहे हैं और वो आप नहीं निकाल पा रहे हैं, आपने परीक्षा दे दी है और उसका रिजल्ट घोषित होने वाला है। तो भी आप प्रदोष काल में प्रदोष के समय व्रत रखकर नियमपूर्वक बाबा भोलेनाथ की उपासना करें। तो आपके सभी काम पूर्ण हो सकते हैं।

जब-जब जिस भी महीने में प्रदोष व्रत हो तब-तब ही कलश के अंदर थोड़ा सा पानी लेकर एक बेलपत्र, हरा मूंग, शमी पत्र उसमें डालकर और उसमें थोड़ा सा गुड़ डालकर प्रदोष काल में शिवलिंग पर समर्पित कर दें और इस उपाय का आप दो या तीन प्रदोष करोगे तो बाबा भोलेनाथ आपकी मनोकामना शीघ्र पूरी कर देंगे।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

और पढ़ें
Next Story