Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुखी वैवाहिक जीवन और धन-धान्य के लिए घर में ऐसे रखें मां लक्ष्मी की मूर्ति

सुखी वैवाहिक जीवन और धन-धान्य के लिए घर में ऐसे रखें मां लक्ष्मी की मूर्ति
X

ज्योतिष के अनुसार, शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है और यह दिन मां लक्ष्मी को ही समर्पित होता है। मान्‍यता है कि घर-परिवार में सुख-शांति और समृद्धि (Peace And Prosperity) बनाए रखने के लिए शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi) की पूजा जरूर करनी चाहिए। इससे धन (Money) से जुड़ी समस्‍याएं दूर होती है और वैवाहिक जीवन (Married Life) में खुशहाली बनी रहती है। हालांकि कई बार ऐसा भी होता है जब काफी पूजा-अर्चना करने के बाद भी घर में बरकत नहीं होती है। इसकी वजह यह है कि कई बार लोगों से जाने-अनजाने में कुछ ऐसी भूल हो जाती हैं जिससे पूजा-अर्चना का फल उन्हें नहीं मिलता है। ऐसा ही कई बार देवी लक्ष्मी की मूर्ति को लेकर होता है। इसलिए मां लक्ष्मी की प्रतिमा से जुड़ी कुछ खास बातों का ध्‍यान जरूर रखना चाहिए, जिससे मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहे और आपको अपनी पूजा का पूरा-पूरा फल भी मिले तथा आपकी पूजा विफल ना हो। तो आइए जानते हैं मां लक्ष्मी की पूजा के बारे में कुछ खास बातें।

ये भी पढ़ें : Swapn Shastra : सपने में कटे फटे नोट देखने का ये है मतलब, एक क्लिक में जानें

मां लक्ष्मी की मूर्ति की खास बातें

शास्त्रों के अनुसार कहा जाता है कि, अपने घर में केवल अंगूठे के ऊंचाई जितनी लक्ष्मी जी की मूर्ति स्थापित करनी चाहिए। अगर इससे ऊंची अथवा बड़ी मूर्ति आप अपने घर में स्थापित करते हैं, तो इसकी पूजा के नियम भी कड़े हो जाते हैं और बाद में इन्‍हें पूरा न करने पर मूर्ति दोष लग सकता है।

गणपति जी को अलग बैठाएं

इस बात का भी पूरा प्रयास करें कि गणेश जी और मां लक्ष्मी की एक साथ जुड़ी हुई प्रतिमाओं को स्थापित करने की बजाय इनकी अलग-अलग मूर्ति स्थापित करनी चाहिए।

उल्लू पर बैठी मूर्ति घर ना लाएं

वहीं इस बात में भी सावधानी बरतें कि देवी लक्ष्मी की ऐसी तस्वीर या प्रतिमा को घर में स्थापित न करें, जो उल्लू पर सवार हों। मान्‍यता है कि इससे घर में धन को लेकर अस्थिरता बनी रहती है।

खड़ी प्रतिमा ना रखें

अपने घर में मां लक्ष्मी की खड़ी हुई प्रतिमा या तस्वीर कभी नहीं रखनी चाहिए। इसलिए इस बात का पूरा ध्‍यान रखें कि जब भी देवी लक्ष्मी जी की मूर्ति स्थापित करें, वह बैठी हुई मुद्रा में ही होनी चाहिए।

दीवार से दूर रखें

जब भी मां लक्ष्मी की मूर्ति को घर में रखें तो यह कभी भी दीवार से चिपका कर नहीं रखी जानी चाहिए। मां की प्रतिमा और दीवार में कम से कम एक इंच की दूरी जरूर होनी चाहिए।

लक्ष्‍मी जी का महत्व

शुक्रवार को लक्ष्मी देवी का दिन माना गया है, जो धन-संपदा की देवी हैं। मान्यता है कि हर शुक्रवार मां की पूजा पूरे विधान से की जाए तो आर्थिक संपन्नता आती है। मान्‍यता है कि शुक्रवार की पूजा से यश की प्राप्ति होती है।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi।com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story