Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Merrychristmas 2020: जानिए, क्रिसमस 2020 की डेट और महत्व

Merrychristmas 2020: ईसाइयों का प्रमुख त्योहार क्रिसमस दुनिया भर में 25 दिसंबर को बड़ी ही उमंग और उत्साह के साथ मनाया जाता है। क्रिसमस के पहले दिन यानि कि 24 दिसंबर से ही क्रिसमस से जुड़े समारोह आदि शुरू हो जाते हैं।

merrychristmas 2020: क्रिसमस 2020 की डेट और महत्व जानिए...
X

Merrychristmas 2020: ईसाइयों का प्रमुख त्योहार क्रिसमस दुनिया भर में 25 दिसंबर को बड़ी ही उमंग और उत्साह के साथ मनाया जाता है। क्रिसमस के पहले दिन यानि कि 24 दिसंबर से ही क्रिसमस से जुड़े समारोह आदि शुरू हो जाते हैं। कई देशो में इस दिन खूब रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। हमारे यहां गोवा में क्रिसमस के त्योहार की बहुत धूम रहती है। देश के शहरों में तथा सभी चर्चों में भी इस दिन लोग प्रभु यीशु का ध्यान करते हैं। क्रिसमस की पूर्व संध्या पर लोग प्रभु यीशु को याद करके कैरोल गाते हैं और क्रिसमस के दिन लोग प्रेम और भाईचारे का संदेश देने के उद्देश्य से एक-दूसरे के घर जाते हैं। और एक-दूसरे को बधाई देते हैं। तो आइए जानते हैं क्रिसमस से जुड़ी बातों के बारे में।

Also read: Lohri 2021: लोहड़ी 2021 की तिथि और क्यों मनाया जाता है ये पर्व, जानिए ...

क्रिसमस अब सिर्फ ईसाईयों का ही धार्मिक पर्व नहीं रह गया है बल्कि अब यह त्योहार एक सामाजिक पर्व के रूप में उभर कर सामने आ गया है। अब तो सभी धर्मों के मानने वाले लोग क्रिसमस के पर्व को बढ़−चढ़कर मनाने लगे हैं। क्रिसमस प्रसन्नता का पर्व है। क्रिसमस के दिन दुनिया भर के चर्चों में प्रार्थना की जाती है। और प्रभु यीशु की जन्मगाथा की अनेक झांकियां प्रस्तुत की जाती हैं। पहले तो क्रिसमस के पर्व को केवल ईसाई समुदाय के लोग ही मनाते थे लेकिन आजकल अनेक गैर ईसाई लोग भी इस पर्व को एक उत्सव के रूप में मनाने लगे हैं।

Also read: Somvati amavasya: 14 दिसंबर को करें ये उपाय, घर में बढ़ेगा धन और ऐश्वर्य

इस त्योहार के दिन लोग घरों में क्रिसमस ट्री लगाते हैं। क्रिसमस ट्री को सुन्दर-सुन्दर गिफ्ट और उपहारों से सजाया जाता है। इसी दिन से 12 दिन के उत्सव क्रिसमसटाइड की भी शुरुआत होती है। क्रिसमस पर बच्चों के बीच सांता क्लाज की बहुत धूम रहती है। सांता क्लाज बच्चों के लिए उपहार लेकर आते हैं। बच्चे भी इस दिन सुंदर और रंगीन कपड़े पहनते हैं। इस दिन बच्चे हाथ में छड़ियां लेकर नृत्य भी करते हैं।

Next Story