Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Lal Kitab : लाल किताब के इन उपायों से शीघ्र बनेंगे आपकी शादी के योग, एक क्लिक में पढ़ें वैवाहिक बंधन में बंधने के टोटके

  • शादी-विवाह होने में अड़चन पैदा होने के कई कारण होते हैं।
  • विवाह में देरी के लिए ग्रहदोष और वास्तुदोष भी मुख्य कारण हो सकते हैं।

Lal Kitab : लाल किताब के इन उपायों से शीघ्र बनेंगे आपकी शादी के योग, एक क्लिक में पढ़ें वैवाहिक बंधन में बंधने के टोटके
X

प्रतीकात्मक तस्वीर। 

Lal Kitab : लोगों की शादी-विवाह होने में अड़चन पैदा होने के कई कारण होते हैं। अनेक बार कोई रिश्ता होते-होते ही टूट जाता है और वहीं कई लोगों की सगाई होने के बाद भी रिश्ता टूट जाता है। विवाह में देरी के लिए ग्रहदोष और वास्तुदोष भी मुख्य कारण हो सकते हैं। और इन दोषों का निवारण करने से शीघ्र विवाह के योग भी बन जाते हैं। लेकिन लोग कई बार ग्रहदोष और वास्तुदोष की ओर ध्यान ही नहीं देते हैं, अगर इन दोषों का समय से निवारण किया जाये तो जातक के जीवन में वैवाहिक योग बनते हैं। तो आइए जानते हैं लाल किताब के अनुसार, विवाह में अड़चन बन रहे मंगल दोष और वास्तुदोष के उपायों के बारे में।

ये भी पढ़ें : कहानी एक ऐसे ऋषि की जिन्होंने कभी किसी स्त्री को नहीं देखा था और जब देखा...

मंगल दोष के उपाय

  1. अगर मंगल दोष के कारण आपके विवाह में देरी हो रही है अथवा अड़चन आ रही हैं तो आप अपने घर के दक्षिण में नीम का पेड़ लगाएं और उसे प्रतिदिन उस पेड़ की जड़ में जल चढ़ाएं।
  2. आप प्रतिदिन हनुमान चालीसा का नियमित रूप से पाठ करें।
  3. अपने सभी भाइयों से अच्छा व्यवहार रखें, चाहे आपका भाई सौतेला हो अथवा सहोदर उनसे प्रेम से बातचीत करें।
  4. सदा शाकाहारी भोजन का सेवन करें, मांस भोजन का त्याग करें।
  5. अपने नेत्रों में प्रतिदिन सफेद सूरमा लगाएं। अगर सफेद सुरमा उपलब्ध नहीं हो तो आप काला सूरमा लगाएं।
  6. घर से बाहर किसी भी काम के लिए निकलते समय गुड़ खाएं और दूसरों को भी गुड़ खिलाएं।
  7. अपने विवाह पहले कुंभ या अश्वत्‍थ विवाह करें और भात पूजा भी करवाएं।

वास्तु दोष के उपाय

  1. अगर आप अपना शीघ्र विवाह करना चाहते हैं तो काले, गहरे नीले, कत्थई, बैंगनी, जामुनी रंग से परहेज करें और इन रंगों के वस्त्र धारण ना करें।
  2. आप अपने जीवन में लाल, पीले, गुलाबी, हरे और सफेद रंग को शामिल करें और इन्हीं रंगों के वस्त्र भी धारण करें।
  3. आप अपने बेडरूम अथवा घर के दक्षिण-पश्‍चिम भाग में सोने से परहेज करें और कभी भी दक्षिण दिशा में पैर करके ना सोएं।
  4. अपने घर के खिड़की और दरवाजों के परदे गुलाबी रंग के लगवाएं और हमेशा इन्हें साफ करते रहें, गंदे और मलीन परदे वास्तु दोष उत्पन्न करते हैं।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story