Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Karwa Chauth 2020 : जानिए करवा चौथ पर आपके शहर में कब निकलेगा चांद

Karwa Chauth 2020 : करवा चौथ का व्रत (Karwa Chauth Vrat) चंद्रमा को अर्घ्य दिए बिना पूर्ण नहीं माना जाता। इस दिन सभी महिलाएं चांद निकलने का बेसब्री से इंतजार करती हैं।लेकिन आज हम आपको पहले से ही आपके शहर में चांद निकलने का समय बताएंगे। जिससे आप करवा चौथ की सभी तैयारियां पहले से ही कर सकें तो चलिए जानते हैं करवा चौथ (Karwa Chauth) के दिन आपके शहर में चांद निकलने का समय।

Karwa Chauth 2020 : जानिए करवा चौथ पर आपके शहर में कब निकलेगा चांद
X

Karwa Chauth 2020 : जानिए करवा चौथ पर आपके शहर में कब निकलेगा चांद

Karwa Chauth 2020 : करवा चौथ का पर्व 4 नवंबर 2020 (Karwa Chauth Festival 4 November 2020) को मनाया जाएगा। इस दिन सुहागन महिलाएं चौथ माता की पूजा (Chauth Mata Ki Puja) करके अपने पति की लंबी उम्र के लिए प्रार्थना करती हैं और चंद्रमा को अर्घ्य देने के बाद अपने पति का चेहरा देखकर करवा चौथ का व्रत पूर्ण करती हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि आपके शहर में चांद कब निकलेगा अगर नहीं तो हम आपको बताएंगे कि आपके शहर में चांद निकलने का सही समय।

करवा चौथ पर सभी शहरों में चांद निकलने का समय

दिल्ली - रात 8 बजकर 11 मिनट पर

नोएडा - रात 8 बजकर 11 मिनट पर

मुंबई - रात 8 बजकर 51 मिनट पर

जयपुर - रात 8 बजकर 22 मिनट पर

देहरादून - रात 8 बजकर 03 मिनट पर

लखनऊ - रात 8 बजकर 00 मिनट पर

शिमला - रात 8 बजकर 06 मिनट पर

गांधीनगर - रात 8 बजकर 42 मिनट पर

इंदौर - रात 8 बजकर 30 मिनट पर

भोपाल - रात 8 बजकर 23 मिनट पर

अहमदाबाद - रात 8 बजकर 44 मिनट पर

कोलकाता - शाम 7 बजकर 40 मिनट पर

पटना - शाम 7 बजकर 45 मिनट पर

प्रयागराज - रात 8 बजकर 03 मिनट पर

कानपुर - रात 8 बजकर 07 मिनट पर

चंडीगढ़ - रात 8 बजकर 11 मिनट पर

लुधियाना - रात 8 बजकर 11 मिनट पर

जम्मू - रात 8 बजकर 11 मिनट पर

बेंगलूरू - रात 8 बजकर 12 मिनट पर

गुरुग्राम - रात 8 बजकर 12 मिनट पर

असम - शाम 7 बजकर 19 मिनट पर

करवा चौथ पर चांद का महत्व

करवा चौथ के दिन चद्रमा को अधिक महत्व दिया जाता है। शास्त्रों के अनुसार करवा चौथ के दिन चंद्रमा को अर्घ्य दिए बिना करवा चौथ का व्रत पूर्ण नहीं माना जाता है। पुराणों के अनुसार चंद्रमा को दीर्घायु देने वाला कारक माना जाता है साथ ही चांद सुंदरता और प्रेम का भी प्रतिबिम्ब है। इसी वजह से करवा चौथ के दिन सुहागने छलनी से पहले चांद और फिर अपने पति का चेहरा देखती हैं और उनकी लंबी उम्र की कामना करती हैं। छलनी का प्रयोग आटा या अन्य तरह की चीजों को छानने के लिए किया जाता है।

Next Story