Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Karthik Purnima 2020: चंद्र ग्रहण के दिन करें ये उपाय, घर में कभी नहीं होगी धन की कमी

Karthik Purnima 2020: हिन्दू धर्म में तुलसी को पवित्र और बेहद पूजनीय माना गया है। ग्रहण के दौरान खाने-पीने की चीजों में तुलसी का पौधा रख देने से उस पर ग्रहण का प्रभाव नहीं पड़ता है।

Karthik Purnima 2020:  चंद्र ग्रहण की तिथि, करें ये उपाय, आपके घर में नहीं होगी धन की कमी
X

Karthik Purnima 2020: हिन्दू धर्म में तुलसी को पवित्र और बेहद पूजनीय माना गया है। ग्रहण के दौरान खाने-पीने की चीजों में तुलसी का पौधा रख देने से उस पर ग्रहण का प्रभाव नहीं पड़ता है। वहीं अगर ग्रहण के वक्त तुलसी के पत्ते को प्रयोग में लाया जाए तो आपकी किस्मत के दरवाजे भी खुल सकते हैं। और आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो जाएगी। तुलसी का पत्ता ग्रहण के नाकारात्मक प्रभाव को खत्म करने की क्षमता रखता है। इसलिए तुलसी को अमृत के समान माना जाता है। तो आइए आप भी जानें चंद्र ग्रहण की तिथि और तुलसी के उपायों के बारे में जोकि ग्रहण के प्रभाव को समाप्त कर सकते हैं।

चंद्र ग्रहण की तिथि

30 नवंबर 2020 को चंद्र ग्रहण लगेगा। और इस दिन कार्तिक पूर्णिमा भी है।


चंद्र ग्रहण के दौरान तुलसी के उपाय

1. तुलसी के पानी से स्नान करने से ग्रहण का प्रभाव खत्म हो जाता है। इसके लिए आप पांच रुपये के सिक्के को पानी और साबुन की मदद से धोकर साफ कर लें। इसके बाद तुलसी की 11 पत्तियां और हरे रंग का एक साफ कपड़ा लें। और पांच रुपये के सिक्के के दोनों तरफ तुलसी के इन पत्तों को किसी मौली आदि की मदद से बांध दें। और इसे हरे रंग के कपड़े में बांधकर एक पोटली सी तैयार कर लें। इसके बाद इस पोटली को आप उस पानी की टंकी में डाल दें जिससे स्नान का पानी आता है। और ग्रहण समाप्त होने के बाद परिवार के सभी सदस्य उस पानी से स्नान कर लें। तुलसी के उस पानी से स्नान करने पर परिवार की नाकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाएगी। साथ ही आपके परिवार पर मां लक्ष्मी जी का वास सदैव के लिए बना रहेगा। और धीरे-धीरे घर के सभी सदस्यों को जीवन में सफलता मिलने लगेगी। और सुख-संपत्ति की भी प्राप्ति होगी।


2. इस उपाय के लिए आपको पीतल की थाली लेनी है। यदि आपके पास पीतल की थाली ना हो तो आप स्टील की भी थाली ले सकते हैं। और आप इस थाली में 21 तुलसी के रखें। और साथ ही एक छोटा सा टुकड़ा कपूर का भी रखें। अब आपको इसी थाली में कुछ बूंदें तिल के तेल की डालनी हैं। और यदि आपके पास तिल का तेल ना हो तो आप सरसों के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। और इसके बाद आप इस थाली को अपने घर की छत या बालकनी में रख दें। ताकि इसमें ग्रहण की छाया पड़ सके। और ग्रहण समाप्त होने के बाद आप इन सभी चीजों को पीस कर चंदन सा बना लें। और फिर आप अपने घर के मुख्य द्वार पर इससे स्वास्तिक का चिन्ह बना लें। साथ ही आप अपने धन रखने वाले स्थान पर भी स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं। इस उपाय को करने के बाद आप दिन दोगुनी और रात चार गुनी तरक्की करेंगे। और आपके लिए धन आगमन के नए रास्ते खुलेंगे। आपको प्रत्येक कार्य में सफलता मिलेगी।


3.इस उपाय में आपको एक कटोरी में तुलसी के 11 पत्ते लेने हैं। इसके बाद आप उस कटोरी में थोड़ा सा सिन्दूर और गंगाजल डाल दें। और इस कटोरी को आप ग्रहण की छाया में रख दें। और उसी रात को सोते समय उसी तुलसी के पत्ते को आपको लेना है। और उन तुलसी के पत्तों को आप सोते समय अपने तकिए के नीचे रखकर सोएं। और फिर अगले दिन सुबह आप उन पत्तों को चुपचाप जमीन में गाड़ दें। इस उपाय को करने से आपकी मनोकामना जल्दी ही पूरी होंगी। आपको जीवन के प्रत्येक मार्ग में सफलता ही सफलता मिलेगी। आपकी चिन्ताओं का निदान होगा। और आपको धन की भी प्राप्ति होगी।

Next Story