Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Jyotish Shastra: गुरुवार को करें ये उपाय, तो बदल जाएगी आपकी तकदीर

Jyotish Shastra: गुरु की जरुरत प्रत्येक शिष्य को होती है। गुरुवार के दिन बृहस्पति यानी कि, देवताओं के गुरु बृहस्पति जी और भगवान विष्णु जी को समर्पित है। जिनकी कुण्डली में गुरु प्रबल होते हैं, उन्हें बिना मांगे ही हर चीज मिल जाती है और वैसे ही गुरु की जरुरत हर शिष्य को पड़ती है।

Jyotish Shastra: गुरुवार को करें ये उपाय, तो बदल जाएगी आपकी तकदीर
X

Jyotish Shastra: गुरु की जरुरत प्रत्येक शिष्य को होती है। गुरुवार के दिन बृहस्पति यानी कि, देवताओं के गुरु बृहस्पति जी और भगवान विष्णु जी को समर्पित है। जिनकी कुण्डली में गुरु प्रबल होते हैं, उन्हें बिना मांगे ही हर चीज मिल जाती है और वैसे ही गुरु की जरुरत हर शिष्य को पड़ती है। तो आइए जानते हैं कि, किस प्रकार बृहस्पति जी को प्रसन्न किया जाए और धन-दौलत, सुख-ऐश्वर्य और शिक्षा के क्षेत्र में किस प्रकार से आप रोजगार प्राप्त कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें : Chandra Grahan 2021: साल 2021 का दूसरा चंद्र ग्रहण कब लगेगा, जानें सूतक काल का समय, उपाय और किन राशि के लोगों पर पड़ेगा इसका अशुभ प्रभाव

गुरु का स्वाभाव काफी शीतल और कोमल होता है और गुरु यहीं चाहते हैं कि, उनका प्रत्येक शिष्य आगे बढ़े। तो अगर आप भी अपने गुरु की कृपा प्राप्त करना चाहते हैं, बृहस्पति देव की कृपा प्राप्त करना चाहते है, जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं, जिंदगी में बदलाव लाना चाहते हैं, किस्मत के हर ताले को खोलना चाहते हैं, तो क्या करें।

गुरु को जो सबसे प्रिय कलर है वो पीला कलर है। क्योंकि गुरुवार भगवान विष्णु जी और बृहस्पति जी को समर्पित है। इसीलिए गांठों वाली हल्दी की माला बनाकरके अगर घर के मुख्य द्वार पर बांध दिया जाए तो इससे लक्ष्मी का बंधन होता है और गुरु का बंधन होता है।

अगर आपके घर में गुरु प्रबल हो जाएं तो आपको कभी भी किसी भी वस्त्र, किसी भी पदार्थ की जरुरत नहीं पड़ती है। बिना मांगे ही आपको सबकुछ मिल जाएगा और लक्ष्मी स्थायी रुप से बंध जाती हैं। गांठों वाली हल्दी की माला घर के मुख्य द्वार पर बांधने से लक्ष्मी का बंधन होता है और लक्ष्मी स्थायी रुप से निवास करने लगती हैं। पूरे घर को अन्न धन से भर देती हैं और दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की कर देती हैं।

पीली हल्दी चुटकी भर गुरुवार के दिन पीपल की जड़ में चढ़ा दें अथवा केले की जड़ में चढ़ा दें। इससे आपकी जो भी क्षतिपूर्ति होती है, आपकी जो भी इच्छाएं हैं, वो सब तीन या पांच गुरुवार तक इस उपाय को करने से पूरी हो जाती हैं। ऐसा करने से भगवान विष्णु जी आपके सभी मनोरथों को पूरा करते हैं और बृहस्पति जी आपकी सभी इच्छाओं को पूरा करते हैं।

गुरुवार के दिन पीले फूल भगवान विष्णु और बृहस्पतिदेव को अवश्य चढ़ाएं। क्योंकि पीला रंग भगवान विष्णु और बृहस्पति जी को समर्पित है। ये दो शक्तियां इस पीले रंग की तरफ खींची चली आती हैं और जातक पर अपना शुभ प्रभाव दिखती है।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story