Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Jyotish Shastra: जानें, कैसे पॉजेटिव विचारों का व्यक्ति हो जाता है खुशहाल

Jyotish Shastra: कई बार हम लोगों के मन में यह ख्याल आता है कि हमें मर जाना चाहिए। कभी आपने इस पर विचार किया है कि, क्यों ये ख्याल आपको बार-बार आता है। हम लोग जब भी जीवन में किसी ऐसी स्थिति में फंस जाते हैं, जहां चीजें हमें समझ नहीं आती हैं, तो मानवीय स्वभाव है कि, व्यक्ति ऐसी चीजों से छुटकारा पाना चाहता है।

Jyotish Shastra: पॉजेटिव विचारों से जीवन में कैसे आती खुशियां, जानें...
X

Jyotish Shastra: कई बार हम लोगों के मन में यह ख्याल आता है कि हमें मर जाना चाहिए। कभी आपने इस पर विचार किया है कि, क्यों ये ख्याल आपको बार-बार आता है। हम लोग जब भी जीवन में किसी ऐसी स्थिति में फंस जाते हैं, जहां चीजें हमें समझ नहीं आती हैं, तो मानवीय स्वभाव है कि, व्यक्ति ऐसी चीजों से छुटकारा पाना चाहता है और वह संघर्ष नहीं करना चाहता है, वह टूट चुका है, वह बार-बार खुद से ही झूठ बोलता है और उसी झूठ को अपनी ही अंर्त-आत्मा के समक्ष ठीक ठहराता है और सोचता है कि हां मैं सही हूं और मैं जीना नहीं चाहता।

ये भी पढ़ें: Weekly Rashifal : जानें, इस सप्ताह किसकी चमकेगी किस्मत, किसका होगा बुरा हाल (साप्ताहिक राशिफल : 26 दिसंबर 2021 से 02 जनवरी 2022)

वह व्यक्ति अपने आपको इतना नेगेटिव कर लेता है और इन सब बातों को अपने हिसाब से सोचने लग जाता है, जोकि सच में ऐसा कुछ होता ही नहीं है। क्योंकि अच्छा और बुरा, जीना और मरना ये सब हमारे दिमाग की उपज है। तो कभी भी जीवन में आपको भी इस तरह के ख्याल आएं तो सबसे पहले और मुख्य रूप से आप ये समझ लें कि आप अभी होश में नहीं हैं और बेहोश व्यक्ति कभी भी कोई सही फैसला नहीं लेता है। क्योंकि हम उन परेशानियों को इतनी जल्दी खत्म करके बाहर निकलना चाहते हैं कि हम समझ ही नहीं पाते कि क्या किया जायें और क्या नहीं। लेकिन यह परेशानियों को समाप्त करने का कोई सही रास्ता नहीं है। क्योंकि आपकी वजह से शायद आप उन 10 लोगों के लिए परेशानी क्रिएट कर जायें जोकि निर्दोष हैं। जिन्होंने आपको पाला-पोसा और बड़ा किया, तथा आपको जहां आप आज हैं उस मुकाम पर पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभायी है।

आप ऐसे वक्त में केवल स्वयं से यही वादा करें कि मैं ऐसी विकट स्थिति से बाहर निकलूंगा। चाहें परिस्थिति मेरे सामने कैसी भी आ जाएं और चाहें कर्ज मुझपर कितना भी हो जाएं, चाहें हालात कितने भी अधिक खराब हो जाएं, कितनी भी घोर निराशा आपको क्यों ना हो जाए। आप ऐसे समय में थोड़ी सी पॉजेटिव सोच अपनी बना लेते हैं तो आपका वक्त ठीक हो जाएगा और आप अपनी सोच के बल पर ही वक्त को ठीक करके दिखाएंगे कि आपमें ये काबलियत है और आप ये कर सकते हैं। बस केवल आपको स्वयं पर थोड़ा सा यकीन करना है।

अगर आप थोड़ा सा ही खुद पर यकीन कर लेंगे तो ईश्वर आप पर पूर्ण यकीन कर लेंगे और आपका सब काम ठीक हो जाएगा। क्योंकि जब आप निराश हो जाते हैं और आपके मन में ऐसे ख्याल आते हैं जिनका वास्तविकता से कुछ लेना देना नहीं होता है। आप बहुत ज्यादा ओवर थिंकिंग महसूस कर रहे हैं।

आप चीजों को समझ ही नहीं पा रहे हैं और जो चीजें आप समझ रहे हैं वो आपने अपने हिसाब से चीजें समझी हैं और अपने हिसाब से समझी हुई बातें कभी सच नहीं होती हैं। क्योंकि ये दुनिया पॉजेटिव है। आप कभी प्रकृति के बीच जाएं तो अपने आपको पॉजेटिव फील करेंगे। जब आप पॉजेटिव होते हैं तो आपके जीवन में खुशियां अपने आप दस्तक देने लगती है और आपके जीवन में सभी कार्य सिद्ध होने लग जाते हैं। तथा आपके जीवन में तरक्की आनी शुरू हो जाती है।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story