Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

JyotiSh Shastra : एक नारियल से ऐसे प्रसन्न हो जाते हैं हनुमान जी, कर देते हैं अपने भक्तों की गरीबी, दुख, क्लेश का नाश

JyotiSh Shastra : ज्योतिष के मुताबिक, श्रीराम भक्त हनुमानजी की पूजा-अर्चना अनेक प्रकार से की जाती है। वैसे तो सच्चे भक्त को तो किसी भी तरीके से कोई मतलब नहीं होता है और वहीं सच्चा भक्त किसी लाभ की आकांक्षा से ही अपने आराध्य की भक्ति करता है, वह तो अपनी सारी चिंता और समस्याओं को अपने आराध्य को समर्पित कर देता है। फिर चाहें उसके जीवन में दुख आये या सुख वह किसी प्रकार की कोई चिंता नहीं करता है। हनुमानजी के सच्चे भक्त के लिए तो उनका नाम ही मंत्र, चालीसा और पूजा है। फिर भी जो कोई भक्त यदि संकट में हो और उसे हनुमानजी को जल्दी प्रसन्न करना हो तो इसके लिए संकट के अनुसार कई तरह की चीजें उन्हें अर्पित करने के बारे में बताया गया है। तो आइए जानते हैं नारियल चढ़ाने से हनुमानजी किस तरह प्रसन्न होकर भक्तों की किस तरह से मदद करते हैं।

JyotiSh Shastra : एक नारियल से ऐसे प्रसन्न हो जाते हैं हनुमान जी, कर देते हैं अपने भक्तों की गरीबी, दुख, क्लेश का नाश
X

JyotiSh Shastra : ज्योतिष के मुताबिक, श्रीराम भक्त हनुमानजी की पूजा-अर्चना अनेक प्रकार से की जाती है। वैसे तो सच्चे भक्त को तो किसी भी तरीके से कोई मतलब नहीं होता है और वहीं सच्चा भक्त किसी लाभ की आकांक्षा से ही अपने आराध्य की भक्ति करता है, वह तो अपनी सारी चिंता और समस्याओं को अपने आराध्य को समर्पित कर देता है। फिर चाहें उसके जीवन में दुख आये या सुख वह किसी प्रकार की कोई चिंता नहीं करता है। हनुमानजी के सच्चे भक्त के लिए तो उनका नाम ही मंत्र, चालीसा और पूजा है। फिर भी जो कोई भक्त यदि संकट में हो और उसे हनुमानजी को जल्दी प्रसन्न करना हो तो इसके लिए संकट के अनुसार कई तरह की चीजें उन्हें अर्पित करने के बारे में बताया गया है। तो आइए जानते हैं नारियल चढ़ाने से हनुमानजी किस तरह प्रसन्न होकर भक्तों की किस तरह से मदद करते हैं।

ये भी पढ़ें : Vastu Shastra : धन को घर की तरफ आकर्षित करने के ये अचूक उपाय, जानें...

यदि आपके जीवन में घोर संकट है या कोई ऐसा कठिन काम है जिसे करना आपके बस की बात नहीं है, तो आप उस काम की जिम्मेदारी अपने आराध्य हनुमान जी अथवा प्रभु श्रीराम को समर्पित कर दें। इसके लिए आप मंगलवार के दिन किसी मंदिर में पूजा-पाठ करने के बाद उन्हें पान का बीड़ा अर्पित करें। आप इस दिन हनुमान जी को रसीला बनारसी पान चढ़ाकर भी मनचाहा वरदान मांग सकते हैं। अगर आपके जीवन में आपको गरीबी और दरिद्रता का दंश झेलना पड़ रहा है अथवा आपको किसी अलाबला या तंत्र मंत्र का शक है तो भी आप इसी तरह हनुमान जी को पान का बीड़ा अर्पित कर सकते हैं।

गरीबी से मुक्ति पाने के लिए आप मंगलवार या शनिवार के दिन एक नारियल पर सिन्दूर लगाएं और उसपर मौली यानी लाल धागा बांध दें। इसके बाद आप उस नारियल को हनुमानजी को अर्पित कर दें और अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए उनसे प्रार्थना करें। तथा लगातार 11 मंगलवार तक यही कार्य नियमपूर्वक करें, निश्‍चित ही आप गरीबी के बंधन से मुक्त हो जाएंगे।

घर सभी प्रकार की अला-बला और जादू-मंत्र या तंत्र को दूर करने के लिए आप एक नारियल को लाल कपड़े में राई के साथ लपेटकर घर के दरवाजे पर बांध दें। इस उपाय को करने से आपके घर से सभी बाधाएं और टोने-टोटके आदि दूर हो जाएंगे।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story