Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Jyotish Shastra: क्यों लोग हो जाते हैं मानसिक रोगी, एक क्लिक में जानें इसके ज्योतिषीय कारण और निवारण के उपाय

Jyotish Shastra: वर्तमान दौर में सभी लोगों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कुछ लोग तो वर्तमान परिस्थितियों से लड़ जाते हैं और कुछ लोग बहुत ही जल्दी नकारात्मकता के शिकार हो कर अवसाद (डिप्रेशन) या मनोरोग के शिकार हो जाते हैं।

Jyotish Shastra: क्यों लोग हो जाते हैं मानसिक रोगी, एक क्लिक में जानें इसके ज्योतिषीय कारण और निवारण के उपाय
X

Jyotish Shastra: वर्तमान दौर में सभी लोगों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कुछ लोग तो वर्तमान परिस्थितियों से लड़ जाते हैं और कुछ लोग बहुत ही जल्दी नकारात्मकता के शिकार हो कर अवसाद (डिप्रेशन) या मनोरोग के शिकार हो जाते हैं। ऐसी परिस्थिति में महिलाओं का मन बहुत कमज़ोर होता है जिसके कारण वह इस मानसिक बीमारी का शिकार जल्दी हो जाती हैं, क्योंकि जो महिलाएं घर में रहती हैं वह अपने मन की बात किसी से खुलकर नहीं कर पाती हैं और वह बहुत जल्दी डिप्रेशन का शिकार हो जाती हैं। अधिकतर लोगों को यही कहते सुना हैं कि जिंदगी में सब कुछ हैं, परंतु सुकून नहीं हैं, जिसका कारण यही अवसाद और ग्रहों का कमज़ोर होना हैं। कुछ लोग बहुत जल्दी बात मन को लगा लेते हैं, जिससे उसी बात को लेकर घुटन होती हैं और नकारात्मक सोच के कारण अवसाद में आ जाते हैं। वैदिक ज्योतिष में कुंड़ली के ग्रहों और भावों के माध्यम से हम जान सकते हैं कि किस योग के कारण हम इस बीमारी के शिकार हो जाते हैं। तो आइए जानते हैं डिप्रेशन में आने के दो प्रमुख ज्योतिषीय कारण और उपाय के बारे में...

ये भी पढ़ें: Ratha Saptami 2022: रथ सप्तमी के दिन करें इन मंत्रों का जाप तो सूर्यदेव होंगे प्रसन्न, जानें आरोग्य सप्तमी की पूजा विधि

चन्द्रमा

चन्द्रमा मन का कारक ग्रह है। चंद्रमा का कमज़ोर या मज़बूत होना किसी की मानसिक अवस्था को प्रतिबिम्बित करता हैं। यह दुसरों के प्रति अनुराग, भावनाएं, भावनात्मक, प्रेम, प्रतिक्रियाएं, मानसिक योग्यता आदि का सूचक हैं और इस प्रकार की बातें किसी गणितीय तर्क पर नहीं चलती हैं। चन्द्रमा का कोई ग्रह शत्रु नहीं हैं फिर भी कुछ ग्रहों के प्रभाव से यह बहुत नकारात्मक हो जाता हैं।

बुध

बुध नसों, नाड़ी मंड़ल, शिक्षा, मानसिक स्थिति, ज्ञान, शक्ति एवं व्यवहार की समझ तथा जटिलताओं को दर्शाता हैं। बुध ग्रह शत्रु मानता हैं चन्द्रमा को। मन यानि चन्द्रमा का विवेक एवं ज्ञान यानि बुध से गहरा योगी-प्रतियोगी संबंध हैं।

अवसाद से बचने के उपाय

  • नित्य उगते हुये सूर्य को जल चढ़ाएं।
  • नित्य प्रात: काल पीपल के वृक्ष को जल चढ़ाएं, और साथ ही 11 परिक्रमा करे।
  • भगवान शिव का नित्य पूजन, जल अभिषेक करें।
  • शरीर पर चांदी धारण करें।
  • चांदी के बर्तन का जल पीने के लिए उपयोग करें

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi।com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

और पढ़ें
Next Story