Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Janmashtami 2021 : भगवान श्रीकृष्ण के इन मंत्रों का करें जाप तो मिलेगी संकटों से निजात

Janmashtami 2021: वैष्णवों के प्रिय भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन यानी जन्माष्टमी का पर्व 30 अगस्त, दिन सोमवार को आने वाला है। भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। शास्त्रों के अनुसार, भगवान कृष्ण को भगवान श्रीहरि विष्णु का आठवां अवतार माना जाता है। भगवान श्रीकृष्ण के अनेक रुप और गुण हैं, वहीं उनका हर रूप निराला है।

Janmashtami 2021 : भगवान श्रीकृष्ण के इन मंत्रों का करें जाप तो मिलेगी संकटों से निजात
X

Janmashtami 2021 : भगवान श्रीकृष्ण के इन मंत्रों का करें जाप तो मिलेगी संकटों से निजात    

Janmashtami 2021: वैष्णवों के प्रिय भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन यानी जन्माष्टमी का पर्व 30 अगस्त, दिन सोमवार को आने वाला है। भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाता है। शास्त्रों के अनुसार, भगवान कृष्ण को भगवान श्रीहरि विष्णु का आठवां अवतार माना जाता है। भगवान श्रीकृष्ण के अनेक रुप और गुण हैं, वहीं उनका हर रूप निराला है। भगवान श्रीकृष्ण धरती से दुष्ट लोगों का भार हरने और सभ्य लोगों को कष्टों से मुक्त करने के लिए आए। गीता में उनके द्वारा दिए गए उपदेश मानव जाति के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। वहीं उनके कुछ मंत्र अचूक और बहुत प्रभावी है, जिनका जाप करने से व्यक्ति सहज ही कष्टों और परेशानियों से मुक्त हो जाता है। तो आइए जानते हैं भगवान श्रीकृष्ण के कुछ मंत्रों के बारे में...

ये भी पढ़ें : Janmashtami 2021 : जन्माष्टमी के अवसर पर जानें कितनी बार टूटा और कितने बार बना श्रीकृष्ण जन्मभूमि मंदिर

भगवान श्रीकृष्ण का बीजमंत्र

ऐं क्लीं कृष्णाय ह्रीं गोविंदाय श्रीं गोपीजनवल्लभाय स्वाहा ह्र्सो

यह मंत्र उच्चारण में थोड़ा कठिन है लेकिन यह बहुत प्रभावशाली माना गया है। इस मंत्र के जाप से वाणी कौशल का आशीर्वाद मिलता है।

समृद्धि कारक मंत्र

गोवल्लभाय स्वाहा

इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति बहुत जल्दी ही धनवान बन सकता है। यह मंत्र आर्थिक समृद्धि के साथ सुख-सुविधाओं के द्वार भी खोल देता है।

रुके हुए काम पूरे करने का मंत्र

ऊं श्रीं नम: श्रीकृष्णाय परिपूर्णतमाय स्वाहा

माना जाता है कि इस मंत्र का जाप करने से जीवन के सभी अटके और रुके हुए काम पूरे हो जाते हैं।

सुख प्रदान करने वाला मंत्र

कृं कृष्णाय नम:

इस मंत्र का जाप करने से घर में सुख-समृद्धि का वास होता है।

प्रेम विवाह का मंत्र

ऊं नमो भगवते श्रीगोविन्दाय

अगर आप अपने प्रेम विवाह करना चाहते हैं तो इस मंत्र का जाप करने से सभी अड़चने दूर हो जाती है और शीघ्र ही प्रेम विवाह के योग बन जाते हैं। इस मंत्र का प्रतिदिन 108 बार जाप करना चाहिए।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi।com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

और पढ़ें
Next Story