Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Holi 2021 : चट मंगनी पट ब्याह और बीमारी से निजात पाने के लिए करें होलिका दहन के दिन ये विशेष उपाय

  • होली (Holi) का पर्व बहुत ही पावन और खूबसूरत पर्व माना जाता है और साथ ही यह पर्व रंगों का पर्व है।
  • होलिका दहन (Holika Dahan ) के दिन अनेक प्रकार के रोग, शोक और कष्टों से निजात पाने के उपाय किए जाते हैं।

Holi 2021 : चट मंगनी पट ब्याह और बीमारी से निजात पाने के लिए करें होलिका दहन के दिन ये विशेष उपाय, जानें
X

Holi 2021 : होली का पर्व बहुत ही पावन और खूबसूरत पर्व माना जाता है और साथ ही यह पर्व रंगों का पर्व है। इस पर्व के दिन सभी लोग बहुत खुश रहते हैं। इस पर्व के दिन बहुत से पकवान और मिठाई आदि बनाई जाती हैं। जिनका सभी लोग इस दिन लुत्फ उठाते हैं। वहीं इस दिन कई तरह के उपाय आदि भी किए जाते हैं। कुछ लोग अपनी शादी को लेकर परेशान रहते हैं तो कुछ लोग अपनी बीमारी को लेकर भी परेशान रहते हैं। वहीं होली एक ऐसा पर्व है कि अगर इस दिन शादी और बीमारी को लेकर आप पूरे विधि-विधान और मन से कोई उपाय कर लें तो वह उपाय बहूत जल्दी ही फल देता है और आपको उसका लाभ मिलता है। अगर आपकी कन्या की शादी में बिलंब हो रहा है अथवा कोई अड़चन आदि आ रही है तो आप भी इस उपाय को कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में।

ये भी पढ़ें : Jyotish Shastra : ऐसे लोग हमेशा रहते हैं गरीब, जानें कुंडली में धनहीनता के योग


होलिका दहन के दिन किसी भी शुभ मुहूर्त में आप या आपकी कन्या यानि (जिस कन्या के विवाह में दिक्कत आ रही है।) काली सरसों के दाने लेकर उन्हें हल्का सा गर्म कर लें और उसके बाद उन दानों को पीसकर पाउडर बना लें।


इसके बाद जो भी व्यक्ति बीमार है अथवा जिस कन्या का विवाह नहीं हो पा रहा है वह उस पाउडर को अपने शरीर पर लगा लें और साथ ही परिवार के सभी सदस्यों के शरीर पर उस सरसों के उबटन को लगवा दीजिए।


क्योंकि होलिका दहन के दिन ही सभी प्रकार के कष्टों से निवारण के उपाय किए जाते हैं और कष्ट व रोगों से निजात पाने का यह एक अचूक उपाय है। इस उपाय को करने से आपके घर से रोग भी भाग जाएगा और अगर आपकी कन्या के विवाह में कोई अड़चन बनी हुई है अथवा कोई दिक्कत आ रही है तो वह भी टल जाएगी और आपकी कन्या का शीघ्र विवाह भी हो जाएगा।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story