Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Grahan 2021 : साल 2021 में कितने सूर्य और चंद्र ग्रहण लगेंगे, जानें इनकी डेट और जरुरी बातें

  • जानें, साल 2021 कब-कब सूर्य और चंद्र ग्रहण लगेंगे।
  • जानें, देश और दुनिया में कहां दिखायी देंगे ग्रहण

Grahan 2021 : साल 2021 में कितने सूर्य और चंद्र ग्रहण लगेंगे, जानें इनकी डेट और जरुरी बातें
X

Grahan 2021 : साल 2021 में मई का महीना चल रहा है और इसी माह में लगने वाले चंद्र ग्रहण के साथ ही इस साल में दो चंद्र ग्रहण और दो सूर्य ग्रहण लगेंगे। ये चारों ग्रहण मई से दिसंबर के बीच कुछ लगेंगे। इन चार ग्रहण में केवल तीन ग्रहण ही भारत में देखे जा सकेंगे। आइए जानते हैं ग्रहण के बारे में जरुरी बातें।

ये भी पढ़ें : Chandra grahan 2021 : साल 2021 का पहला चंद्र ग्रहण देश में कब और कहां दिखाई देगा, एक क्लिक में जानें इसका सही समय व सूतक काल

पहला सूर्य ग्रहण 10 जून 2021

साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून को लगेगा। भारत में यह ग्रहण आंशिक रूप से दिखाई पड़ेगा। इसके अलावा यह ग्रहण उत्तरी अमेरिका के उत्तरी भाग, यूरोप और एशिया में आंशिक, उत्तरी कनाडा, रूस और ग्रीनलैंड में पूर्ण रूप से दिखाई पड़ेगा। पहला सूर्यग्रहण भारत के कुछ ही भागों में देखा जा सकेगा। पूर्वोत्तर में अरुणाचल के कुछ भागों में और जम्मू-कश्मीर के कुछ भागों में ग्रहण समाप्त होने से पहले कुछ समय के लिए देखा जा सकता है। देश के अन्य भागों में यह ग्रहण दृश्य नहीं होगा।

दूसरा सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर 2021

साल 2021 का दूसरा और आखिरी सूर्य ग्रहण 04 दिसंबर 2021 को लगेगा। इस ग्रहण को भारत में नहीं देखा जा सकेगा। यह अंटार्कटिका, दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका में दिखाई पड़ेगा।

ये भी पढ़ें : Kedarnath Temple Open: मेष लग्न के शुभ संयोग में भक्तों के दर्शनों के लिए खोले श्री केदारनाथ धाम के कपाट, सीएम रावत और कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने दीं शुभकामनाएं

पहला चंद्र ग्रहण 26 मई 2021

26 मई 2021 को साल का पहला चंद्र ग्रहण लगेगा। यह पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा। यह भारत में एक उपछाया ग्रहण के तौर पर देखा जा सकेगा, जबकि पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत महासागर और अमेरिका में पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा। यह चंद्रग्रहण भारत में दिखेगा लेकिन देश के कुछ भागों में ही लोग ग्रहण को देख पाएंगे। भारत के उत्तर पूर्वी भागों में चंद्रोदय के समय जब ग्रहण का मोक्ष हो रहा होगा उस समय यह ग्रहण दिखेगा। नागालैंड मिजोरम असम त्रिपुरा पूर्वी उड़ीसा अरुणाचल पश्चिम बंगाल में लोग इस ग्रहण को देख पाएंगे।

दूसरा चंद्र ग्रहण 19 नवंबर 2021

19 नवंबर को साल का आखिरी चंद्र ग्रहण दोपहर करीब 11.30 बजे लगेगा, जो कि शाम 05 बजकर 33 मिनट पर समाप्त होगा। यह आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। यह भारत, अमेरिका, उत्तरी यूरोप, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर में देखा जा सकेगा। यह ग्रहण भारत में अरुणाचल और असाम के कुछ भाग में ही चंद्रोदय के समय नजर आएगा। इस दिन चंद्रमा ग्रहण के साथ उदित होगा और उदय के कुछ पल बाद ही ग्रहण समाप्त हो जाएगा।

ग्रहण को लेकर धार्मिक मान्यता

धार्मिक मान्यता के अनुसार, ग्रहण को अशुभ घटना के रूप में देखा जाता है। इसलिए इस दौरान कई कार्यों को वर्जित माना गया है। खासकर शुभ कार्यों को। ग्रहण के दौरान पूजा-पाठ करना वर्जित होता है और इस दौरान देवी-देवताओं की मूर्तियों को स्पर्श नहीं किया जाता है। मंदिरों के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं।

ग्रहण के अशुभ प्रभाव से बचने के उपाय

विश्व विख्यात भविष्यवक्ता और कुंडली विश्ल़ेषक अनीष व्यास ने बताया कि सूर्य और चंद्र ग्रहण के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए इन दोनों ग्रहों से संबंधित मंत्रों का जाप करना चाहिए। सूर्य ग्रहण में सूर्य के बीज मंत्र और चंद्र ग्रहण में चंद्रमा के बीज मंत्र का जाप करने से ग्रहण के अशुभ प्रभावों से बचा जा सकता है। इसके अलावा इन दोनों ग्रहों के यंत्रों की पूजा करने से भी ग्रहण के अशुभ प्रभावों से छुटकारा पाया जा सकता है।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story