Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
toggle-bar

शनिवार के दिन ना करें ये काम वरना हो जाएंगे आप परेशान

  • नवग्रह (Navagraha) में शनिदेव (Shanidev) को सबसे क्रूर ग्रह कहा जाता है।
  • शनिदेव न्याय के देव हैं।

शनिवार के दिन ना करें ये काम वरना हो जाएंगे आप परेशान
X

नवग्रह में शनिदेव को सबसे क्रूर ग्रह कहा जाता है, लेकिन साथ ही यह भी कहा जाता है कि शनिदेव न्याय के देव हैं। निर्दोष व्यक्ति का शनिदेव कभी कुछ भी बुरा और अहित नहीं करते हैं, लेकिन अगर कोई बुरा कर्म करता है तो उसको शनिदेव सजा भी जरुर देते हैं। शनिवार का दिन शनिदेव को ही समर्पित है। इसीलिए इस दिन कुछ विशेष कार्य नहीं करने चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से कहा जाता है कि जीवन में थोड़ी परेशानी आ सकती हैं। तो आइए जानते हैं शनिवार के दिन कौन से कार्य नहीं करने चाहिए।

ये भी पढ़ें : अगर आप श्रीकृष्ण मंदिर जाएं तो ध्यान रखें ये बात, ना करें उनकी पीठ का दर्शन


शनिवार के दिन कोई भी लोहे की वस्तु नहीं खरीदना चाहिए। यानी जिसकी कुंडली में शनि की दशा गड़बड़ है और जीवन में शनिदेव के कारण परेशानी हैं वो लोग लोहा दान तो कर सकते हैं लेकिन वे लोग शनिवार के दिन लोहा खरीदने से परहेज करें।


अगर ऐसे लोगों को लोहा खरीदना ही पड़ें तो वे लोग शुक्रवार के दिन लोहा खरीद सकते हैं। शनिवार के दिन लोहा बिलकुल भी ना खरीदें। इसलिए आप शनिवार के दिन थोड़ा संभल कर रहें।


ऐसा माना जाता है कि शनिवार के दिन काली उड़द और सरसों का तेल, काले तिल यानि जो भी शनिदेव से संबंधित वस्तु हैं उन्हें भी शनिवार के दिन नहीं खरीदना चाहिए। आप उन वस्तुओं को शुक्रवार के दिन खरीदकर रख सकते हैं।

ये भी पढ़ें : Lal Kitab : जानें, किस वार में कैसे करें नजर दोष को दूर


अगर आपको शनि का दान भी करना है तो भी आप उन वस्तुओं को शुक्रवार के दिन खरीदकर ही शनिवार के दिन दान कर सकते हैं। क्योंकि कभी-कभी हम लोग भूल वश शनिवार के दिन इन चीजों को खरीदकर अपने घर ले आते हैं तो ऐसा माना जाता है कि हमारे ऊपर शनिदेव की कुदृष्टि पड़ जाती है। क्योंकि ये सब चीजें शनिदेव से ही संबंधित चीजें हैं और शनिवार के दिन इन्हें अपने घर लाने का मतलब है कि आप अपने घर में परेशानियों को लेकर आ रहे हैं।


इसलिए आप भी शनिवार के दिन संभलकर रहें और शनिवार के दिन सरसों का तेल, काले तिल, काली उड़द और लोहे से संबंधित कोई भी वस्तु खरीदकर अपने घर किसी भी स्थिति में ना लेकर आए।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

और पढ़ें
Next Story