Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Diwali 2020 : जानिए दिवाली पर क्यों की जाती है भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा

Diwali 2020 : दिवाली 14 नवंबर 2020 (Diwali 14 November 2020) को मनाई जाएगी। इस दिन माता लक्ष्मी के साथ भगवान गणेश की पूजा की जाती है। माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी (Goddess Laxmi) धरती पर भ्रमण करती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर क्यों दिवाली पर भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की ही पूजा की जाती है। आखिर क्या है इसके पीछे का कारण आइए जानते हैं।

Diwali 2020 : जानिए दिवाली पर क्यों की जाती है भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा
X

Diwali 2020 : जानिए दिवाली पर क्यों की जाती है भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा

Diwali 2020 : दिवाली 14 नवंबर 2020 (Diwali 14 November 2020) को मनाई जाएगी। इस दिन माता लक्ष्मी के साथ भगवान गणेश की पूजा की जाती है। माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी (Goddess Laxmi) धरती पर भ्रमण करती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर क्यों दिवाली पर भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की ही पूजा की जाती है। आखिर क्या है इसके पीछे का कारण आइए जानते हैं।

दिवाली पर भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा का कारण

दिवाली का त्योहार बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा का इस दिन विधान है। माता लक्ष्मी भगवान विष्णु के बिना कहीं पर नहीं जाती और जब भी भगवान विष्णु ने धरती पर कोई अवतार लिया है तो माता लक्ष्मी ने भी उनके साथ अवतार लिया है। इसी कारण से भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा साथ में की जाती है। लेकिन दिवाली है एक ऐसा त्योहार है जब माता लक्ष्मी की पूजा भगवान गणेश के साथ की जाती है।

दिवाली पर भगवान गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा को विशेष महत्व दिया जाता है। इन दोनों की पूजा के बिना दिवाली का त्योहार अधूरा माना जाता है। दिवाली पर माता लक्ष्मी को इसलिए पूजा जाता है। क्योंकि उनके भक्तों के पास कभी भी धन की कोई कमीं न रहे और भगवान गणेश माता लक्ष्मी के पुत्र समान है। भगवान गणेश को सभी देवताओं से पहले पूजने का विधान है। भगवान गणेश को यह वरदान भगवान शिव और माता पार्वती ने दिया था।

इसके अलावा भगवान गणेश को विघ्ननाशक और बुद्धि का देवता माना जाता है। यदि किसी व्यक्ति को माता लक्ष्मी की पूजा करने से धन की प्राप्ति हो जाए। लेकिन उसमें बुद्धि ही न हो तो वह धन उसके किसी भी काम का नहीं रहता। इसलिए धन के साथ बुद्धि भी अति आवश्यक मानी गई है। जो भगवान गणेश और माता लक्ष्मी के पूजन से ही संभव है। इसी कारण से दिवाली पर मां लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा साथ में की जाती है।

Next Story