Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बारिश के पानी का ये टोटका आपको कर देगा मालामाल, दुख-दरिद्रता और बीमारी होंगी समाप्त

  • बारिश के जल से आप अपने जीवन में भी बहार ला सकते हैं।
  • बारिश के जल से बीमारी, परेशानी और हर प्रकार के क्लेश आदि छुटकारा पाया जा सकता है।

बारिश के पानी का ये टोटका आपको कर देगा मालामाल, दुख-दरिद्रता और बीमारी होंगे समाप्त
X

बरसात का मौसम शुरु हो चुका है। बारिश के मौसम में खासकर बारिश का जो पानी होता है उसका अनेक प्रकार के टोटकों के लिए प्रयोग किया जाता है। जिस प्रकार बारिश के जल से हमारे आसपास का वातावरण हरा-भरा हो जाता है, ठीक उसी प्रकार बारिश के जल से आप अपने जीवन में भी बहार ला सकते हैं। आपके जीवन में कोई भी परेशानी है, दरिद्रता हो, कर्जा हो, दांपत्य जीवन की परेशानी हो अथवा सभी प्रकार के कष्टों से बारिश के जल से छुटकारा पाया जा सकता है। वैसे भी बारिश का पानी खासतौर से हमारी दरिद्रता को दूर करने के लिए सबसे अच्छा तरीका माना जाता है। तो आइए जानते हैं बारिश के पानी से किए जाने वाले टोटके के बारे में...

ये भी पढ़ें : Gochar 2021: अगस्त में तीन ग्रह कर रहे राशि परिवर्तन, इन राशियों के लोगों की चमकेगी किस्मत

  • बारिश के पानी से टोटका करने के लिए आपको एक तांबे का बर्तन लेकर उसमें बारिश का पानी इक्ट्ठा करना है। तांबे के बर्तन को हिन्दू धर्म में बहुत ही ज्यादा पवित्र माना जाता है और ये नकारात्मक शक्ति का नाश करने में सबसे ज्यादा अच्छा पात्र माना जाता है। तो किसी भी एकादशी तिथि को भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी को आपने जो तांबे के बर्तन में बारिश का पानी रखा है, उस जल से उनका अभिषेक करना है। इस उपाय को करने से आपके परिवार में प्रेम बढ़ता है और घर परिवार में किसी भी प्रकार की कलह, लड़ाई-झगड़े आदि निजात मिलती है और कारोबार व नौकरी में तरक्की मिलती है। इस उपाय को करने से जितनी भी जीवन की परे्रशानी हैं वो सभी दूर हो जाती है। वहीं धन प्राप्ति करने के लिए ये सबसे अच्छा उपाय कहा जा सकता है। अगर बारिश के पानी से भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी जी का अभिषेक किया जाए तो तत्काल ही उनका आशीर्वाद मिलता है। वहीं इस उपाय को करने से भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होनी शुरु हो जाती है।
  • अगर आपके विवाह में किसी प्रकार की दूरी हो रही है या अचड़न आदि आ रही है तो आप तांबे के पात्र में बारिश का पानी इक्ट्ठा करें और किसी भी बुधवार के दिन इससे गणपति जी का अभिषेक करें और अभिषेक से बचे हुए जल की बूंदों का सेवन करने के बाद आप भोजन ग्रहण कर लें। इससे आपके विवाह में आने वाली जो भी बाधाएं हैं वो दूर हो जाती हैं। क्योंकि विघ्नहर्ता, मंगलकर्ता स्वयं गणेश जी महाराज हैं और भगवान गणेश जी आपके हर प्रकार के विघ्नों को दूर कर देंगे ।
  • अगर आप लंबे समय से बीमार हैं और डॉक्टर की दवाई आपको असर नहीं कर रही है तो आप बारिश के पानी का प्रयोग कर सकते हैं। प्रतिदिन आप महामृत्युंजय मंत्र का 21 बार जाप करें और तांबे के पात्र में रखे हुए बारिश के जल में फूंक मारकर उस पी लें। आप देखेंगे कि 10-12 दिन के भीतर ही आप पूर्णरुप से स्वस्थ हो जाएंगे।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi।com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story