Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जानिए बांसुरी रखने के फायदे

बांसुरी भगवान श्रीकृष्ण को बहुत प्रिय है। भगवान श्रीकृष्ण को प्रिय होने के कारण बांसुरी को प्रकृति का अनुपम वरदान मिला हुआ है। वास्तु शास्त्र के अनुसार बांसुरी को अगर घर अथवा दुकान में रखा जाए तो बांसुरी से कई लाभ मिलते हैं। तो आइए आप भी जानिए बांसुरी को घर अथवा दुकान में रखने के क्या लाभ होते हैं।

जानिए बांसुरी रखने के फायदे
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बांसुरी भगवान श्रीकृष्ण को बहुत प्रिय है। भगवान श्रीकृष्ण को प्रिय होने के कारण बांसुरी को प्रकृति का अनुपम वरदान मिला हुआ है। वास्तु शास्त्र के अनुसार बांसुरी को अगर घर अथवा दुकान में रखा जाए तो बांसुरी से कई लाभ मिलते हैं। तो आइए आप भी जानिए बांसुरी को घर अथवा दुकान में रखने के क्या लाभ होते हैं।


ज्योतिष के अनुसार बांसुरी का इस्तेमाल अगर सोच समझ कर किया जाए तो यह हमें कई प्रकार के दोषों से बचाती है। बांसुरी के संबंध में एक धार्मिक मान्यता है कि जब बांसुरी को हाथ में लेकर हिलाया जाता है, तो घर में अगर बुरी आत्माओं का वास हो तो वह दूर हो जाता है। और जब बांसुरी को बजाया जाता है तो ऐसी मान्यता है कि घरों में शुभ चुम्बकीय प्रवाह का प्रवेश होता है।

फेंगशुई विद्या के अनुसार बांसुरी घर में रखना बहुत शुभ माना जाता है। मान्यताओं के अनुसार बांसुरी घर में रखने से उन्नति और प्रगति दोनों में बहुत सहायक है। इस प्रकार बांसुरी प्रकृति का एक अनुपम वरदान है। यदि सोच समझकर बांसुरी का उपयोग किया जाए तो वास्तु दोषों का बिना किसी तोड़पोड़ के निवारण कर अशुभ फलों से बचा जा सकता है।

बांसुरी बांस से बनी होती है। और इसके पौधे को दिव्य माना जाता है। घर में बांसुरी का प्रयोग करके कई तरह से लाभ उठाया जा सकता है। ऐसा माना जाता है कि जो व्यक्ति अपनी नौकरी से परेशान रहता है, बांसुरी उसकी सारी मुश्किलें आसान कर सकती है। जो व्यक्ति काफी मेहनत के बाद भी अपने बिजनेस में सफलता हासिल नहीं कर पा रहे हैं उनके लिए बांस से बनी बांसुरी उन्नति और समृद्धि दोनों देने में सक्षम है। भगवान श्रीकृष्ण का पूजन करते हुए अपनी दुकान की छत पर दो बांसुरी चिपकानी चाहिए। अथवा दो बांसुरी दुकान की छत में टांग देनी चाहिए। यह बहुत ही सरल उपाय है जोकि आपको आपके बिजनेस में सफलता के शिखर पर ले जाता है।

घर और कार्यक्षेत्र में नकारत्मक शक्तियों के प्रवेश को रोकने के लिए काले रंग की बांसुरी छत पर टांग दें। बांसुरी घर में रखने से जहां बहुत समस्याओं का हल होता है, वहीं बांसुरी मनोकामनाओं को भी पूरा करती है। जब-जब श्याम सुन्दर की बंसी बज उठती है, प्राणियों की तो बात ही क्या जड़ भी मानों मुग्ध और चेतन हो जाती है। मुरली के मधुर स्वर जैसे गीत गाने लगते हैं। देवता हों, यक्ष हों, किन्नर हों, मनुष्य, पशु-पक्षी, जड़ और चैतन्य सभी मोहित होकर झूमने लगते हैं।

बांसुरी के जादुई लाभ

बेडरूम के दरवाजे के पास पीली वाली रखने से मन पसंद नौकरी पाने की इच्छा पूरी होती है।

बिजनेस में तरक्की के लिए दुकान के गल्ले में चांदी की बांसुरी रखें।

घर के पूजाघर में मोरपंख लगी बांसुरी अवश्य रखें। ऐसा करने से घर-परिवार पर दैवीय कृपा बनी रहती है।

मनचाहे जीवनसाथी की तलाश कर रहे कुंवारे लोगों को अपने बिस्तर के पास तकिये के नीचे लाल रंग की बांसुरी रखनी चाहिए।

निसंतान दंपति को हरे रंग की बांसुरी अपने बेडरूम में छिपाकर रखनी चाहिए। ऐसा करने से जल्दी ही इनके आंगन में बच्चे की किलकारी गंजने लगती हैं।

यदि आप नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो अपने कपड़ों की अलमारी में लकड़ी की बांसुरी छिपाकर रखें।

विद्यार्थी अपने कमरे में सफेद बांसुरी रखें, ऐसा करने से उन्हें प्रत्येक परीक्षा में सफलता मिलेगी।

घर की तिजोरी में चांदी की बांसुरी रखने से घर सदा धन-दौलत से भरा रहेगा।

रसोईघर में सुनहरी बांसुरी रखने से यानि कि गोल्ड की बांसुरी रखने से घर के सदस्यों को रोग का भय नहीं रहता है।

एक ही रंग की दो बांसुरी घर के हॉल में रखने से घर का क्लेश दूर हो जाता है।

Next Story
Top