Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गरुड़ पुराण के अनुसार महिलाओं को कभी नहीं करने चाहिए ये काम

घर-परिवार और समाज में महिलाओं की भूमिका सर्वाधिक महत्वपूर्ण होती है। महिलाओं को उचित मान-सम्मान मिले, इसके लिए गरुड़ पुराण में बताया गया है कि स्त्रियों को किन-किन बातों का हमेशा अपने ध्यान में रखना चाहिए। यहां जानिए कौन-कौन सी हैं ये बातें...

गरुड़ पुराण के अनुसार महिलाओं को कभी नहीं करने चाहिए ये काम
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

घर-परिवार और समाज में महिलाओं की भूमिका सर्वाधिक महत्वपूर्ण होती है। महिलाओं को उचित मान-सम्मान मिले, इसके लिए गरुड़ पुराण में बताया गया है कि महिलाओं को किन-किन बातों का हमेशा अपने ध्यान में रखना चाहिए। घर को मंदिर बनाने में महिलाओं की ही महत्वपूर्ण भूमिका होती है। यहां जानिए कौन-कौन सी हैं ये बातें...

दूसरों के घर में ना रूकें: महिलाओं को किसी भी स्थिति में किसी अन्य व्यक्ति के घर में नहीं रुकना चाहिए। इस बात की अनदेखी करने पर भयंकर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। दूसरे लोगों के घर में रहने वाली महिलाओं को घर-परिवार और समाज में भी गलत नजर से देखा जाता है। महिलाओं की छवि धूमिल हो जाती है। साथ ही दूसरे लोगों पर भरोसा करने से व्यक्तिगत हानि भी हो सकती है।

विरह से बचें: महिलाओं को बहुत अधिक विरह से बचना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार किसी महिलाओं को अपने पति से बहुत अधिक समय तक दूर नहीं रहना चाहिए। जीवन साथी से विरह महिलाओं को मानसिक रूप से कमजोर कर देता है। पति से दूर रहने वाली महिलाओं को समाज में अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। घर-परिवार और समाज में उचित मान-सम्मान मिले इसके लिए महिलाओं को जीवनसाथी के साथ ही रहना चाहिए। पति के साथ पत्नी अधिक सशक्त और सुरक्षित रहती है।

अपनों को इज्जत दें : महिलाओं को इस बात का जरुर ध्यान रखना चाहिए। घर-परिवार के लोगों की उनसे किसी भी प्रकार उपेक्षा ना हो जाए। किसी भी स्थिति में घर के बड़े लोगों का अपमान न करें। अन्यथा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही, इस बात का भी विशेष ध्यान रखें कि शुभचिंतकों की उपेक्षा करते हुए पराए लोगों के प्रति स्नेह प्रकट न करें। इस बात की वजह से बड़ी परेशानियां उत्पन्न हो सकती हैं।

सदचरित्र वाले लोगों का संग करें : महिलाओं को इस बात का भी जरुर ध्यान रखना चाहिए कि बुरे चरित्र वाले लोगों से दूर ही रहें। गलत आचरण करने वाले लोगों की संगत से कभी भी संकट की स्थिति पैदा हो सकती है। जिन लोगों के आचार-विचार गलत होते हैं, वे दूसरों को नुकसान पहुंचाने में समय नहीं लगाते। निजी स्वार्थ और इच्छाओं को पूरा करने के लिए ऐसे लोग कुछ भी कर सकते हैं। अत: किसी भी परिस्थिति में ऐसे लोगों का संग ना करें और हमेशा बुरे लोगों से सावधान रहें। अन्यथा असुरक्षा, अपयश और अपमान की स्थिति उत्पन्न हो सकती हैं।

Next Story