Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Chanakya Niti : व्यक्ति इन तीन कारणों से हो जाता है बर्बाद, आप इनसे दूर ही रहना

  • चाणक्य नीति (Chanakya Niti) आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) द्वारा रचित एक नीति ग्रंथ (Niti Granth) है।
  • चाणक्य नीति में जीवन को सुखमय (happy life) और सफल बनाने के लिए उपयोगी सुझााव दिए गए हैं।

Chanakya Niti : शादी से पहले कभी भूलकर भी ना लेना औरत की ये चीज, जानिए...
X

Chanakya Niti :चाणक्य नीति (Chanakya Niti) आचार्य चाणक्य (Acharya Chanakya) द्वारा रचित एक नीति ग्रंथ (Niti Granth) है। जिसमें जीवन को सुखमय (happy life) और सफल बनाने के लिए उपयोगी सुझााव दिए गए हैं। इस ग्रंथ का मुख्य विषय मानव समाज को जीवन के हर एक पहलु की व्यवहारिक शिक्षा देना है। चाणक्य एक महान ज्ञानी थे। जिन्होंने अपनी नीतियों की बदौलत चंद्रगुप्त मौर्य को राजा की गद्दी पर बैठा दिया। दुनिया की सबसे बड़ी ताकत पुरुष का विवेक और महिला की सुन्दरता होती है। आचार्य चाणक्य की ये बातें कई मायनों में काफी हद तक सही हैं। उनकी ये बातें महिलाओं के बारे में उनके विचार को प्रकट करती हैं। चाणक्य जी की ये बातें सदियों से लोगों की प्रेरणा स्तोत्र रही हैं। तो आइए जानते हैं कि किन स्त्रियों से पुरुष को दूर रहना चाहिए।

ये भी पढ़ें : Karwa chauth 2021 : करवा चौथ व्रत कब है, जानें इसका महत्व

  1. जिस स्त्री का स्वभाव खराब हो उस स्त्री का खर्चा उठाने वाले पुरुष को अपनी जिन्दगी में काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है। इसलिए आपको ऐसी स्त्री से हमेशा दूर रहना चाहिए।
  2. जो स्त्री केवल अपने स्वार्थ के लिए किसी पुरुष से जुड़ी हो ऐसी महिला से भी दूर रहना चाहिए। वो केवल अपना मतलब पूरा होने तक ही आपके पास रहती है और ऐसी स्त्रियों की संगति विनाश की ओर ले जाती है।
  3. जो स्त्री संस्कारी ना हो और चरित्रहीन हो वो कितनी ही सुन्दर क्यों ना हो उससे दूर रहना चाहिए। अगर कोई लड़की देखने में सुन्दर ना हो, लेकिन संस्कारी हो तो उसके साथ आपको शादी करनी चाहिए। परन्तु जिस स्त्री का चरित्र अच्छा ना हो वो दूसरे पुरुष की तरफ आकर्षित होती है। इसलिए ऐसी स्त्री से दूर रहना चाहिए।

आचार्य चाणक्य का मत है कि स्त्री अच्छी वही है जो धार्मिक कामकाज में निपुण, सत्यनिष्ठ और अपने पति के लिए वफादार हो। चाणक्य जी के इस विचार को लोग नारी विरोधी भी मानते हैं, लेकिन अपने अनुभव और विवेक से आप उन बातों पर गौर कर सकते हैं।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Haribhoomi.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Next Story