Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Aashan Mas 2020: आषाढ़ मास 6 जून से शुरू, इस महीने में बरतें ये सावधानियां

आषाढ़ मास संधि काल का महीना है। आषाढ़ मास से बर्षा ऋतु की शुरुआत हो जाती है। इसलिए इस महीने में रोगों का संक्रमण सर्वाधिक होता है। आषाढ़ मास में ही मलेरिया, चिकन गुनिया, डेंगू जैसे रोग होते हैं। इसलिए इस महीने कुछ विशेष बातों पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

Aashan Mas 2020: आषाढ़ मास 6 जून से शुरू, इस महीने में बरतें ये सावधानियां
X
आषाढ़ मास

Aashan Mas 2020: आषाढ़ का महीना 6 जून 2020 से शुरू हो गया है और यह अगले महीने 5 जुलाई 2020 को समाप्त होगा। आषाढ़ मास के प्रमुख त्योहार में जगन्नाथ रथ यात्रा है। इस महीने में सूर्य और देवी की भी उपासना की जाती है। इस महीने देवशयनी एकादशी के दिन से श्री हरि विष्णु शयन के लिए चले जाते हैं। जिसके कारण अगले चार माह तक शुभ कार्यों को करने की मनाई है। इसे चतुर मास के नाम से भी जाना जाता है।

धार्मिक मान्यता के अनुसार आषाढ माह में गुरू की उपासना सबसे फलदायी होती है। इस महीने में श्री हरि की उपासना से संतान प्राप्ति का वरदान मिलता है। इस महीने में जलदेव की उपासना का महत्व है कहा जाता है कि जलदेव की उपासना करने से धन की प्राप्ति होती है। ऊर्जा के स्तर के सयमित रखने के लिए आषाढ़ के महीने में सूर्य की उपासना की जाती है।

खास बात है यह की इस बार आषाढ़ के महीने में तीन ग्रहण लगेंगे, जिनमें 2 चंद्रग्रहण और एक सूर्यग्रहण है। एक चंद्र ग्रहण निकल गया है। अब 21 जून को सूर्यग्रहण और 5 जुलाई को चंद्र ग्रहण है। बतादें कि स्वास्थ के नजरिए से यह माह ठीक नहीं होता है।

दरसल आषाढ़ मास संधि काल का महीना है। आषाढ़ मास से बर्षा ऋतु की शुरुआत हो जाती है। इसलिए इस महीने में रोगों का संक्रमण सर्वाधिक होता है। आषाढ़ मास में ही मलेरिया, चिकन गुनिया, डेंगू जैसे रोग होते हैं। इसलिए इस महीने कुछ विशेष बातों पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

आषाढ़ मास में में बरतें ये सावधानियां

इस संधि काल के महीने में जल संबंधित बिमारी अधिक होती है। ऐसे में इस समय स्वच्छ जल का सेवन करना चाहिए।

इस समय खान पान में रसीले फोलों का सेवन करना चाहिए।

पाचन को दुरुस्त बनाए रखने के लिए कम तली भूनी चिजों का सेवन करें।

आषाढ़ माह में सौफ, हींग और नीबू का सेवन करना लाभदायक होता है।

इस समय घर के आसपास पानी को एकत्रित होने न दें,

Next Story