Breaking News
Top

ये है बीयर की बोतलों से बना मंदिर, देख लीजिए

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 18 2017 1:00PM IST
ये है बीयर की बोतलों से बना मंदिर, देख लीजिए

दुनियाभर में कुछ लोग ऐसे कारनामें करते हैं जिसे देखकर लोगों को उस पर विश्वास करना मुश्किल होता है। हर जगह आपको कुछ न कुछ नया और अनोखा देखने को मिल ही जाता है।

थाइलैंड के उत्तर-पूर्व एक ऐसा मंदिर बना है जिस पर विश्वास करना बहुत मुश्किल है। इस मंदिर को कई लाख बीयर की खाली बोतलों से बनाया गया है। बौद्ध मंदिर को लेकर लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रिया मिल रही है।

यह भी पढ़ें- OMG: इस वजह से यहां कब्रों से शवों को निकाल कर मनाया जाता है जश्न

वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि इससे उनकी भावनाएं आहत हुईं हैं, वहीं कुछ लोग बीयर की बोतलों से बने इस मंदिर को देखकर हैरान हो जाते हैं। 

इस मंदिर के निर्माण की योजना का विचार 80 के दशक के मध्य में एक बौद्ध भिक्षु को अपने दोस्तो के घर पर सजी खाली बियर की बोतलों से आया था। 

लोगों को ये आइडिया खूब पसंद आया और उन्होंने ये मंदिर बनाने के लिए बड़ी तादाद में खाली बीयर की बोतलों का दान करना शुरु कर दिया। 

तब भिक्षु के पास अलग-अलग आकार और ब्रांड की करोड़ों पर्याप्त बोतलें हो गईं तो उसने मंदिर निर्माण का कार्य शुरु कर दिया।

भिक्षु की मेहनत और उसका अनोखा आइडिया रंग लाया और आज ये अनोखा बौद्ध मंदिर पर्यटकों के बीच खूब प्रसिद्ध है।

इस बौद्ध मंदिर को बेहद आश्चर्यजनक तरीके से बनाया गया है। इस अनोखे बौद्ध मंदिर में बाथरूम से लेकर मरघट तक, सब कुछ बीयर की खाली बोतलों से बना है।

यहां तक की मंदिर में शीशे भी बीयर की बोतलों के कांच से ही बनाए गए हैं। और इस मंदिर में बुद्धा की दो विशाल मूर्तियां को खाली बोतलों से नहीं बल्कि सुनहरे रंग के मोज़ेक कांच ये बनाया गया है।

इस बौद्ध मंदिर में आपको बुद्धा की एक मोटी मूर्ति भी मिलेगी जिसे आमतौर पर आप बुदाई के नाम से जानते हैं। इस मंदिर को बेहद आश्चर्यजनक तरीके से बनाया गया है। जिसे देखकर हर कोई हैरान हो जाता है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
the buddhist temple built using 1 5 million recycled beer bottles

-Tags:#Thailand#Beer Bottle#Buddhist Temple#Ajab Gazab News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo