Breaking News
Top

लखनऊ में कन्हैया कुमार का हुआ जोरदार विरोध, लिटरेरी फेस्टिवल हुआ रद्द

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 11 2017 2:10PM IST
लखनऊ में कन्हैया कुमार का हुआ जोरदार विरोध, लिटरेरी फेस्टिवल हुआ रद्द

हमेशा अपने बयानों के कारण सुर्खियों में बने रहने वाले जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को लखनऊ में जोरदार विरोध का सामना करना पड़ा। कन्हैया लखनऊ में लिटरेरी फेस्टिवल में शामिल होने के लिए आए थे। इस विरोध के बाद जिला प्रशासन ने लिटरेरी फेस्टिवल को कैंसिल कर दिया है। 

कन्हैया कुमार इस लिटरेरी फेस्टिवल में अपनी किताब 'बिहार से तिहाड़ तक' पर चर्चा करने के लिए आए थे। कन्हैया कुमार के फेस्टिवल में शामिल होने को लेकर भाजयुमो और एबीवीपी के सदस्यों ने वहां जमकर हंगामा किया। इतना ही नहीं कन्हैया के समर्थकों और विरोध करने वालों के बीच हाथापाई भी हुई।

कई हिंदूवादी संगठन के लोगों ने कन्हैया कुमार को देशद्रोही बताते हुए वहां नारेबाजी शुरू कर दी। हंगामे की सूचना पाकर मौके पहुची पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को किसी तरह से शांत किया। 

यह भी पढ़ेंः केंद्रीय कर्मचारियों पर फिर बरसी मोदी सरकार, नए घर के लिए इतने लाख का मिलेगा एडवांस

इस हंगामे के बाद कन्हैया कुमार ने कहा कि वे देशद्रोही नहीं हैं। उनका ताल्लुक स्वतंत्रता सेनानी के खानदान से है। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें गोली भी मार दी जाए फिर भी वे संघर्ष के मैदान से पीछे नहीं हटेंगे। सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ उनका संघर्ष हमेशा जारी रहेगा। 

कन्हैया कुमार से विरोध के बाद गोमतीनगर की एक निजी संस्था के लिटरेरी फेस्टिवल पर प्रशासन ने रोक लगा दी है। लखनऊ के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने शहर में होने वाले निकाय चुनाव के दौरान कानून-व्यवस्था को देखते हुए कार्यक्रम को रद्द करने का आदेश दिया है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
abvp and bhajumo opposed to kanhaiya kumar in lucknow literary festival

-Tags:#Kanhaiya Kumar#ABVP#JNU#Lucknow
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo