Breaking News
Top

यूपीः मंदिर के बाहर चिपकाए गए पोस्टर, रामायण पाठ के दौरान कोई दलित मंदिर में न आए

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 23 2017 10:39AM IST
यूपीः मंदिर के बाहर चिपकाए गए पोस्टर, रामायण पाठ के दौरान कोई दलित मंदिर में न आए

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के मौदाहा कस्बे के गदाहा गांव में 10 दिन का रामायण पाठ होना है। लेकिन इस पाठ के शुरू होने से पहले ही विवाद हो गया है। 

दरअसल इस गांव के मंदिर के पुजारी ने मंदिर के बाहर पोस्टर चिपका दिया है, जिसमें दलितों को रामायण पाठ के दौरान मंदिर में न आने चेतावनी दी गई है। 

इसे भी पढ़ेंः दलित महिला ने घर में काम करने से किया इनकार, मालिक ने काटी नाक

इस पर गांव के दलित समुदायों का कहना है कि यह पहली बार नहीं है जब किसी धार्मिक कार्य से उन्हें दूर रहने को कहा गया हो। इस पर विस्तार से बताते हुए दलित समुदाय के लोगों का कहना था कि ऐसी मान्यता है कि  दलित बुरा संयोग लेकर आएंगे। 

टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपने एक सूत्र के हवाले से लिखा है कि राम जानकी मंदिर के पुजारी ने इससे पहले भी मंदिर के बाहर चेतावनी भरे अंदाज में 10 दिनों तक रामायण पाठ के दौरान घर से बाहर नहीं निकलने के लिए कहा था। 

इस विवाद पर बात करते हुए एक स्थानीय गुरु प्रसाद आर्य का कहना है कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब दलितों को मंदिर में आने से रोका गया हो। एसडीएम सुरेश कुमार ने कहा, 'इस मामले की पूरी जांच की जाएगी। पुजारी की भूमिका अगर इसमें पाई जाती है तो उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई होगी।'

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
ramayana path at temple dalits to stay at home

-Tags:#Dalit#Dalit News#Uttar Pradesh#Yogi Adityanath
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo