Breaking News
Top

तो क्या बसपा में वंशवाद के बीज बो रही हैं मायावती?

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 19 2017 5:05PM IST
तो क्या बसपा में वंशवाद के बीज बो रही हैं मायावती?

भारतीय राजनीति में कमोवेश सभी दलों में वंशवाद के बीज किसी न किसी रूप में देखे जा सकते हैं। इस मामले में अब तक बहुजन समाज पार्टी अपवाद के रूप में देखी जाती रही है। बसपा के संस्थापक कांशीराम ने मायावती को बहुत सोच-समझ कर पार्टी की बागडौर सौंपी थी। लेकिन, अब मायावती के नेतृत्व में ही वंशवाद के बीज बोए जा रहे हैं। 

भाई और भतीजे को जनता से कराया रू-ब-रू 

यूपी विधानसभा चुनाव में हार के बाद पहली बार मेरठ की बड़ी रैली में बसपा सुप्रीमो ने जिस तरह से अपने भाई आनंद कुमार और भतीजे आकाश को लोगों के समक्ष पेश किया, उससे तो यही संदेश जाता दिख रहा है। इस दौरान दोनों ही मंच पर बेहद एक्टिव और जनता का अभिवादन स्वीकार करते नजर आए। 

पहले आनंद को बनाया था पार्टी का उपाध्यक्ष

इससे पहले बसपा के कद्दावर नेता सतीश मिश्रा मायावती के भाई और भतीजे को जनता से रू-ब-रू करा चुके हैं। 14 अप्रैल 2017 को अंबेडकर जयंती के अवसर पर मायावती ने अपने भाई आनंद को पार्टी का उपाध्यक्ष बनाया था। इसके साथ ही बसपा सुप्रीमो ने साफ कर दिया था कि आनंद सिर्फ पार्टी में सहयोग करेंगे और कोई चुनाव नहीं लड़ेंगे। 

चुनाव में सौंपी जा सकती है बड़ी जिम्मेदारी 

लेकिन मेरठ रैली में आनंद और आकाश को जिस तरह से जनता से रू-ब-रू कराया गया, उससे तो साफ लगता है कि दोनों को 2019 के लोकसभा चुनाव में बड़ी जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि दोनों चुनाव भी लड़ें। सियासी पंडितों की मानें तो मायावती ने दोनों को जनता के बीच लाकर वंशवाद की राह अपना ली है। 

अपने नेताओं पर नहीं रहा माया को भरोसा

इसके पीछे की वजह यह हो सकती है कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव को दौरान जिस तरह से कई बड़े नेता बसपा छोड़कर दूसरी पार्टी में शामिल हो गए थे। इससे मायावती को बड़ा धक्का लगा और उन्होंने अपने ही नेताओं पर भरोसा करना कम कर दिया। ऐसे में उन्होंने अपने रिश्तेदारों को पर भरोसा करना सही समझा हो। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
mayawati is sowing seeds of dynasty in bsp

-Tags:#Mayawati#Party dynasty#BSP#Anand#Akash
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo