Breaking News
Top

वीरेंद्र सहवाग के टीम इंडिया के कोच बनने के राह में उनके गुरु सचिन बने रोड़ा

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 16 2017 6:08AM IST
वीरेंद्र सहवाग के टीम इंडिया के कोच बनने के राह में उनके गुरु सचिन बने रोड़ा

रवि शास्त्री टीम इंडिया के नए कोच बन गए हैं। किन्तु कोच पद पर शास्त्री के नियुक्ति के बाद भी कोच पद की नियुक्ति को लेकर हुई घटनाओं का सुर्खियां बनना जारी है।

शास्त्री के साथ कोच बनने के सबसे प्रमुख दावेदारों में टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग भी शामिल थे। लेकिन आखिर में बाजी शास्त्री मार ले गए। 

इसे भी पढ़े:- कोच शास्त्री की नियुक्ति मंजूर लेकिन द्रविड़,जहीर पर कोई फैसला नहीं

तो जानिए सहवाग किस कारण से कोच नहीं बन पाए 

ये कारण था सहवाग का कोच नहीं बन पाने का 

सब कुछ ठीक था लेकिन एक बात जिसने सहवाग का खेल बिगाड़ा वह थी उनके द्वारा अपना सपोर्ट स्टाफ लाने की योजना।

सहवाग कोच बनने के बाद फिजियोथेरपिस्ट अमित त्यागी और किंग्स इलेवन पंजाब के असिस्टेंट कोच मिथुन मन्हास को लाना चाहते थे।

यही बात कोहली को पसंद नहीं आई और उन्होंने सहवाग को साफ शब्दों में कह दिया कि पाजी, आपके लिए तो मेरे मन में सम्मान है लेकिन सपोर्ट स्टाफ वाली बात संभव नहीं है क्योंकि टीम में पहले से ही प्रोफेशनल सेट-अप है।

यही वह बात थी जिसमें शास्त्री ने बाजी मार ली क्योंकि वह सपोर्ट स्टाफ के मामले में कोहली और टीम की राय के अनुसार चलने को तैयार थे। 

सीएसी द्वारा कोच पद के लिए जिन पांच लोगों का इंटरव्यू लिया गया उनमें शास्त्री और टॉम मूडी के बाद सहवाग का ही प्रेजेंटेशन सबसे बेहतरीन था और ये सीएसी में शामिल सौरव, सचिन और लक्ष्मण को पसंद भी आया था। 

और एक कारण यह भी रहा कि सचिन तेंदुलकर का झुकाव शास्त्री की तरफ ज्यादा था जबकि सचिन और सहवाग के अच्छे रिश्ते से हर कोई वाकिफ है। इन्हीं कारणों की वजह से आखिर में बाजी रवि शास्त्री ने मारी।     

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
virender sehwag missed out as coach of team india

-Tags:#Cricket News#Coach
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo