Hari Bhoomi Logo
बुधवार, सितम्बर 20, 2017  
Breaking News
Top

क्या भारतीय महिला क्रिकेट टीम और विराट टीम के बीच होना चाहिए एक मैच

Anuj Kumar | UPDATED Jul 22 2017 12:02PM IST
क्या भारतीय महिला क्रिकेट टीम और विराट टीम के बीच होना चाहिए एक मैच

इन दिनों भारतीय टीम के अलावा भारतीय महिला क्रिकेट टीम सुर्खियों में हैं। इसकी वजह है महिला विश्व कप के फाइनल में महिला टीम का पहुंचना। महिला विश्व कप के सेमीफाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराकर फाइनल में एंट्री तो मारी।

लेकिन अभी तक भारतीय पुरूष क्रिकेट टीम के बराबर वो शोहरत और दौलत नहीं मिल सकी है। जिसकी भारतीय महिला टीम को खोज है। जिस तरह भारत में टीम इंडिया को देखा जाता है उस तरह शायद ही महिला क्रिकेट टीम को देखा जाता हो। 

इसे भी पढ़े:- VIDEO: हरमनप्रीत है, सहवाग और कोहली की तरह आक्रामक

महिला टीम की कप्तान मिताली राज के अलावा अन्य खिलाड़ी भी है जो 2017 महिला वर्ल्ड कप में अब तक काफी अच्छा रिकॉर्ड कायम कर चुके हैं। उन्होंने लीग मैचों में अपनी बल्लेबाजी से कई रिकॉर्ड बनाए है।

महिला टीम की कप्‍तान मिताली राज आईसीसी की महिला बल्लेबाजों की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर है तो वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली आईसीसी की वनडे रैंकिंग में शीर्ष पर बरकरार हैं।

जबकि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 12वें स्थान पर हैं। लेकिन अगर बात की जाए महिला टीम की अन्य खिलाड़ियों कि तो दीप्ति शर्मा 38वें स्थान और थिरूष कामिनी 41वें स्थान पर हैं।

लेकिन वहीं मिताली राज के बाद जिस महिला खिलाड़ी का नाम सामने आ रहा है वो हैं हरमनप्रीत कोर, हरमनप्रीत ने सिर्फ 115 गेंदों में 20 चौके और 7 छक्के की मदद से 171 रनों की बेमिसाल पारी खेली। 

इसके साथ ही हरमनप्रीत ने कई रिकॉर्ड्स भी अपने नाम किए हैं। इन रिकॉर्ड्स में हरमनप्रीत ने कई भारतीय टीम के कई दिग्गज खिलाड़ियों को भी पीछे छोड़ दिया है। 

रोहित शर्मा ने 2015 विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मैच में 137 रन बनाए थे, लेकिन हरमनप्रीत ने 171 रन बनाकर रोहित का रिकॉर्ड तोड़ दिया। लेकिन वहीं हरमनप्रीत ने धोनी और विराट के भी रिकॉर्ड तोड़े हैं।

पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव की कप्तानी में भारत ने 1983 में वर्ल्ड कप जीता, सौरव गांगुली के नेतृत्व में 2003 में भारत फाइनल में पहुंचा। धोनी की कप्तानी में भारत 2011 का चैंपियन बना। 

इसे भी पढ़े:- भारत ने श्रीलंका को सस्ते में समेटा, अंतिम 9 विकेट 48 पर गिरे

वहीं दूसरी तरफ मिताली राज की टीम 2005 में विश्व चैंपियन बनने से चूकी गई थी। जिसके बाद अब इस साल वो इंग्लैंड को हराकर विश्व चैंपियन बनने की कोशिश करेगी। 

लेकिन अब भी एक सवाल उठता है क्या इस रिकॉर्ड्स और शानदार पारियों के बाद इन दोनों टीमों ( महिला क्रिकेट टीम और पुरूष क्रिकेट टीम ) के बीच एक मुकाबला होना चाहिए। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
there should be a one match between women and men cricket team

-Tags:#Sports#Cricket#Mithali Raj#Virat Kohli
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo