Hari Bhoomi Logo
रविवार, सितम्बर 24, 2017  
Breaking News
बीएचयू कैंपस के अंदर पहुंची पुलिस, छात्रों का हंगामा हुआ तेजबीएचयू: छात्र प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस नेता पी.एल पुनिया, राज बब्बर और अजय राय को पुलिस ने रोकादिल्ली तक पहुंची बीएचयू की आग, यूथ कांग्रेस ने जमकर किया प्रदर्शनदिल्ली तक पहुंची बीएचयू की आग, यूथ कांग्रेस ने जमकर किया प्रदर्शनप्रद्युम्न मर्डर केस: आरोपी ड्राइवर अशोक को 14 दिनों की न्यायिक हिरासतलखनऊ: सोमवार सुबह 11 बजे मुलायम सिंह यादव करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंसबीएचयू: छात्राओं ने किया छेड़खानी का विरोध, पुलिस ने बरसाई लाठियांजम्मू-कश्मीर के बारामूला स्थित उड़ी सेक्टर में रात से ही सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है
Top

झूलन गोस्वामी का बड़ा खुलासा, परेशान होकर होना चाहती थी टीम से बाहर

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 9 2017 9:19AM IST
झूलन गोस्वामी का बड़ा खुलासा, परेशान होकर होना चाहती थी टीम से बाहर

भारतीय महिला टीम की तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने मंगलवार को खुलासा किया कि वह महिला विश्व कप के पहले दो मैचों में अपने प्रदर्शन से इतना अधिक निराश थी कि उन्होंने कोच तुषार अरोठे से उन्हें अंतिम एकादश से बाहर करने के लिए कह दिया था।

अरोठे ने हालांकि न सिर्फ इस अनुभवी तेज गेंदबाज का समर्थन किया बल्कि उन्हें कप्तान मिताली राज का भी पूरा समर्थन मिला और आखिर में भारत को फाइनल तक पहुंचाने में झूलन ने अहम भूमिका निभाई।

इसे भी पढ़े:- श्रीलंकाई टीम को लगा एक और झटका, चोट के चलते हेराथ टीम से बाहर

झूलन को यहां नेताजी इंडोर स्टेडियम में बंगाल क्रिकेट संघ के वार्षिक पुरस्कार समोराह में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सम्मानित किया।

शुरुआत में बेहद निराश थी       

इस तेज गेंदबाज ने इस अवसर पर कहा, ‘विश्व कप के शुरूआती चरण में अपने प्रदर्शन से मैं बेहद निराश थी। वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के बाद मैंने कोच तुषार से कहा कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रही हूं और आप मुझे अगले मैच से बाहर कर सकते हो।

लेकिन उन्होंने कहा, ‘नहीं, मैं तुम्हें टीम में चाहता हूं और तुम आक्रमण की अगुवाई करोगी।’

कोच के शब्द रहे प्रेरणादाई       

झूलन ने कहा कि कोच के प्रेरणादायी शब्दों से उन्हें मजबूती मिली और उन्होंने मिताली की मदद से अपने खेल पर विशेष ध्यान दिया तथा आस्ट्रेलिया के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी करके एक खूबसूरत गेंद पर उसकी कप्तान मेग लैनिंग को शून्य पर आउट किया। भारत ने सेमीफाइनल का यह मैच 36 रन से जीता।

इसे भी पढ़े:- सहवाग ने अंजू-मंजू से बंधवाई राखी, खुद को कहा- 'हाफ गंजू'

आस्ट्रेलिया का मैच महत्वपूर्ण था

झूूलन ने कहा, ‘आस्ट्रेलिया मैच हमारे लिए महत्वपूर्ण था। वह दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम है। लैनिंग सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में से एक है। मैं चाहती थी कि मैं उन्हें सही क्षेत्र में गेंद कराऊं।

मैंने मिताली से कहा कि मैं उन्हें वैसी ही गेंद करना चाहती हूं जैसे कि लैनिंग को करना चाहूंगी और उसने मुझे फीडबैक दिया। सौभाग्य से सब कुछ हमारे हिसाब से हुआ।’ 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
jhulan goswami says after two matches i want to be coach removed from the team

-Tags:#Women Cricket News#Women World Cup#Jhulan Goswami
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo