Hari Bhoomi Logo
बुधवार, सितम्बर 20, 2017  
Top

दादा को मिली जान से मारने की धमकी, मिली बेनाम चिट्ठी

haribhoomi.com | UPDATED Jan 10 2017 12:07AM IST
नई दिल्‍ली. टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान और कैब के अध्‍यक्ष सौरव गांगुली को जान से मारने की धमकी मिली है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, गांगुली ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्‍हें किसी ने (अज्ञात शख्‍स) जान से मारने की धमकी दी है।
 
समाचार एजेंसी टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक, सौरव गांगुली ने बताया कि बीते पांच जनवरी को उन्हें एक बेनामी चिट्ठी मिली थी, जिसमें यह धमकी दी गयी थी। इसमें कहा गया है कि 19 जनवरी को पश्चिम मेदिनीपुर के विद्यासागर यूनिवर्सिटी में होने वाले खेल के कार्यक्रम में वह शामिल होंगे तो वह वापस नहीं लौट पाएंगे। दरअसल, गांगुली को 5 जनवरी की सुबह उनके घर के बाहर एक चिट्ठी मिली, जिसमें लिखा था कि यदि वे मिदनापुर आए तो जिंदा लौटकर नहीं जाएंगे।
 
बता दें कि धमकी किसी जेड. अली नाम के अनजान शख्‍स से मिली है। उसने पत्र में आरोप लगाया है कि किसी आशीष चक्रवर्ती नाम के शख्‍स ने मिदनापुर में धोखाधड़ी की है तो अगर महाराज (सौरव) आशीष को प्रमोट करने मिदनापुर आते हैं तो वे उन्‍हें मार देंगे। आशीष चक्रवर्ती क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल में मिदनापुर का प्रतिनिधित्‍व करते हैं।
 
सोमवार को सौरव ने एसोसिएशन की वर्किंग कमेटी की बैठक की अध्‍यक्षता करने के बाद कहा कि मुझे 19 जनवरी को बिद्यासागर यूनिवर्सिटी में होने वाले जिला खेल कार्यक्रम के लिए मिदनापुर जाना था। लेकिन मुझे सुरक्षा कारणों से वहां न जाने को कहा गया है। मैंने पूरे मामले की जानकारी पुलिस अधिकारियों को दे दी है। वे जरूरी कदम उठा रहे हैं।
 
कोलकाता के प्रिंस सौरव ने अपने क्रिकेट कॅरियर में इंदौर के योगदान को अहम बताया। उन्होंने कहा कि इंदौर के नेहरू स्टेडियम में पहली बार अंडर-15 क्रिकेट टीम कैम्प में हिस्सा लिया था। इसकी याद आज भी मेरे जेहन में हैं। उन्होंने हॉल में उपस्थित विजेता व उपविजेता खिलाडिय़ों को बधाई देकर आगे बढऩे की सीख दी। 

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo