Hari Bhoomi Logo
बुधवार, सितम्बर 27, 2017  
Breaking News
Top

BCCI ने लोढ़ा समिति की सिफारिशों को आंशिक रूप से स्वीकार किया,ये सुधारवादी कदम लागू नहीं

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 27 2017 8:18AM IST
BCCI ने लोढ़ा समिति की सिफारिशों को आंशिक रूप से स्वीकार किया,ये सुधारवादी कदम लागू नहीं

बीसीसीआई ने बुधवार को यहां अपनी आम सभा की विशेष बैठक (एसजीएम) में लोढ़ा समिति की सिफारिशों को आंशिक रूप से स्वीकार कर लिया लेकिन सुशासन को लेकर बड़ी सिफारिशों को खारिज कर दिया जिसमें आयु सीमित करना, कार्यकाल और ब्रेक जैसे मुद्दे शामिल हैं।      

उच्चतम न्यायालय के ‘व्यावहारिक कठिनाइयों' पर 18 अगस्त को सुनवाई के लिए राजी होने के बाद बीसीसीआई ने आयु सीमा (70 साल), ब्रेक (तीन साल) और कार्यकाल (राज्य और बीसीसीआई प्रत्येक में नौ साल) पर विवादास्पद सुधारों को लागू नहीं किया।

इसे भी पढ़े:- भारत VS श्रीलंका पहला टेस्ट: पहले दिन दो बड़े शतक से भारत का विदेशी सरजमीं पर सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड

लोढ़ा समिति ने जिन्हें सुशासन का सिद्धांत कहा था उन्हें स्वीकार नहीं करना संकेत है कि अयोग्य होने के बावजूद एन श्रीनावसन और निरंजन शाह जैसे पुराने पदाधिकारी अब भी प्रासंगिक हैं।      

बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने कहा कि उन्होंने उच्चतम न्यायालय के 18 जुलाई 2016 के आदेश के तहत पांच सुधारवादी कदमों को छोड़कर बाकी सभी सिफारिशों को सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया है।

इसे भी पढ़े:-  फोटोशूट में चप्पल पहन कर पहुंचे शिखर धवन, युवराज ने उड़ाया मजाक

ये सुधारवादी कदम लागू नहीं

1. सदस्यता से जुड़े मामले, एक राज्य एक मत, रेलवे और सेना जैसे पूर्ण सदस्यों को बरकरार रखना।

2. नियुक्त किए गए अधिकारियों के अधिकारों को परिभाषित करना।

3. शीर्ष परिषद का आकार और संविधान।

4. पदाधिकारियों, मंत्रियों और सरकारी अधिकारियों पर रोक और अयोग्यता, आयु, कार्यकाल और ब्रेक।

5. राष्ट्रीय चयन समिति का आकार। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
bcci partially accepts recommendations of lodha committee

-Tags:#Cricket News#Bcci#Lodha Committee
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo