Breaking News
Top

300 क्विंटल फूलों से सजेंगे महाकाल, छह रूपों में होंगे दर्शन

haribhoomi.com | UPDATED Aug 29 2016 12:16PM IST
नई दिल्ली. महादेव के 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक हैं उज्जैन के महाकाल। भादौ मास के पहले सोमवार को महाकाल की शाही सवारी निकलेगी। जिसमें महाकाल 300 क्विंटल फूलों से सज-धज कर आएंगे। अवंतिकानाथ रजत पालकी में चंद्रमौलेश्वर, हाथी पर मनमहेश, गरूढ़ पर शिवतांडव, नंदी पर उमामहेश, रथ पर हाथी पर मनमहेश रूप में सवार होकर भक्तों को दर्शन देने निकलेंगे। शाम 4 बजे शाही ठाठबाट के साथ राजा की पालकी नगर भ्रमण के लिए रवाना होगी। 
 
इससे पूर्व मंदिर की परंपरा अनुसार संभागायुक्त रवींद्र पस्तौर भगवान के चंद्रमौलेश्वर रूप का पूजन करेंगे। इसके पश्चात सवारी महाकाल घाटी, गुदरी, बक्षीबाजार, कहारवाड़ी होते हुए पालकी रामघाट पहुंचेगी। यहां शिप्रा के जल से भगवान का अभिषेक पूजन पूजन होगा। पश्चात सवारी रामानुजकोट, गणगौर दरवाजा, कार्तिकचौक, जगदीश मंदिर, ढाबारोड, टंकी चौराहा, मिर्जा नईम बेग मार्ग, बड़ा तेलीवाड़ा, कंठाल, सतीगेट, छत्रीचौक, गोपाल मंदिर, पटनी बाजार होते हुए रात करीब 10 बजे मंदिर पहुंचेगी।
 
महाकाल मंदिर में 21 क्विंटल फूलों की लड़ियों से नंदीमंडपम से लेकर गर्भगृह और मुख्य द्वार तक सजावट की गई है। ख़बर के मुताबिक, सवारी मार्ग पर 120 मंच लगाए गए हैं और तकरीबन 350 क्विंटल फूलों से अगवानी होगी। 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo