Hari Bhoomi Logo
शनिवार, सितम्बर 23, 2017  
Breaking News
Top

बाबा समर्थकों की हिंसा के कारण नहीं मिली एंबुलेंस, बेटी के शव को स्ट्रेचर पर ले गई मां

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 26 2017 5:39PM IST
बाबा समर्थकों की हिंसा के कारण नहीं मिली एंबुलेंस, बेटी के शव को स्ट्रेचर पर ले गई मां

रेप केस में फंसे डेरा सच्चासौदा के बाबा गुरमीत राम रहीम पर शुक्रवार को कोर्ट ने बाबा को दोषी करार दिया, जिसके बाद बाबा के समर्थक हिंसा पर उतर आए। बाबा के समर्थकों के हिंसा के डर की वजह से एक परिवार को अस्पताल से बच्ची की डेड बॉडी घर ले जाने के लिए काफी मुश्किल का सामना करना पड़ा।

इसे भी पढ़ें: धरने पर बैठे राम-रहीम के 30 हजार समर्थक, 250 किलोमीटर तक लोगों की भीड़

 
बता दें कि पटियाला के निजी अस्पताल में एक परिवार ने बच्ची को नाजुक हालत में भर्ती कराया था, लेकिन शुक्रवार करीब शाम 5 बजे बच्ची की मौत हो गई। मौत हो जाने के बाद डॉक्टर ने परिवार को बच्ची की डेड बॉडी सौंप दी थी।
 
परिवार 6:30 बजे तक बच्ची की बॉडी घर ले जाने के लिए एंबुलेंस का इंतजार करता रहा, लेकिन कोई भी एंबुलेंस डेरा समर्थकों की हिंसा की वजह से ले जाने के लिए तैयार नहीं हुआ। उनको डर था कि बेकाबू डेरा समर्थक एंबुलेंस पर भी हमला न कर दें। जिसके बाद मृत बच्ची की मां और भाई डेड बॉडी को स्ट्रेचर पर रखकर अस्पताल से हाइवे पर लाकर बॉडी को करीब डेढ़ किलोमीटर खींचकर मॉर्चुरी ले आए।
 
 
मृत बच्ची के भाई ने बताया कि शुक्रवार को ही अंतिम संस्कार करना चाहते थे। लेकिन हिंसा के चलते हालात के आगे मजबूर हो गए। 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
rapists baba goons child life stretcher dead body 1 5 km mother

-Tags:#Punjab#Rape Case#Dera Sachsauda Baba Gurmeet Ram Rahim#Violence#Patiala Hospital#Dead Body
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo