Top

85वें स्थापना दिवस पर वायुसेना ने दिखाई अपनी ताकत, देखें वीडियो

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 8 2017 9:25PM IST
85वें स्थापना दिवस पर वायुसेना ने दिखाई अपनी ताकत, देखें वीडियो

गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर रविवार को भारतीय वायु सेना ने अपना 85वां एयरफोर्स दिवस मनाया। इस दौरान लड़ाकू विमान तेजस के अलावा हेलीकॉप्टर भी आसमान में गरजे व जवानों ने अपनी ताकत और अनुशासन से कई करतब दिखाए जिसे देख वहां मौजूद मुग्ध हो गए। 

इसी बीच 8 हजार फीट की ऊंचाई से आकाश गंगा टीम के पैराजंपर्स तिरंगा के रंगों में रंगे पैरासूट से एयरबेस पर उतरे तो पूरा हिंडन एयरबेस तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। 

इसे भी पढ़ें: रेल मंत्री का वीआईपी कल्चर को लेकर बड़ा फैसला

समारोह में वायु सेना के प्रमुख मार्शल बीएस धनोआ के अलावा आर्मी चीफ और नेवी प्रमुख भी मौजूद थे। इसके अलावा क्रिकेट के भगवान सचिन तेंडुलकर लगातार दूसरे साल परेड देखने के लिए पहुंचे। इस दौरान परेड का भी आयोजन किया गया और एयरफोर्स प्रमुख को सलामी दी। सेना के बैंड ने भी अपनी परफॉर्मेंस दी।

इन विमानों ने दिखाई ताकत

समारोह के दौरान तेजस समेत कई एयरक्राफ्ट शामिल हुए। हिंडन एयरबेस पर फोर्स के सारंग हेलिकॉप्टर टीम के अलावा एएन-32 विमान, ट्रेनर एयरक्राफ्ट, सुखोई, हॉक, ध्रुव हेलिकॉप्टर के साथ हवा में करतब दिखाए।

वायु सेना दिवस के मौके पर वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने कहा कि भारतीय वायु सेना संक्षिप्त नोटिस पर भी युद्ध लड़ने और देश में किसी भी सुरक्षा चुनौती का जवाब मुंहतोड़ तरीके से देने के लिए तैयार है। 

इसे भी पढ़ें: गुजरात विधानसभा चुनाव 2017: इन चार कारण से भाजपा हार सकती है चुनाव!

उन्होंने कहा, क्षेत्र में मौजूदा भू-राजनीतिक माहौल में अनिश्चितताओं को देखते हुए वायु सेना को ‘संक्षिप्त' और ‘तेज' युद्ध लड़ना पड़ सकता है। ‘अगर जरूरत पड़ी तो हम संक्षिप्त नोटिस पर जंग के लिये तैयार हैं।' 

ये बयान ऐसे समय में आये हैं जब चीन डोकलाम पठार क्षेत्र में शक्ति प्रदर्शन कर रहा है और जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से सीमापार से आतंकी गतिविधियां जारी हैं।

भारतीय वायुसेना दिवस पर चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बताया कि देश में पहली बार लड़ाकू विमान उड़ाने की तैयारी कर रही तीन महिला पायलट्स को पहले मिग 21 बाइसन क्यों दिया जाएगा। 

उन्होंने बताया कि मिग 21 बाइसन में ज्यादा मैनुअल फीचर्स हैं। इसको उड़ा कर तीनों पायलट्स अपना कौशल निखारेंगी। इसके बाद तीनों महिलाएं दूसरे जेट उड़ा सकती हैं। तीन महिला विमान चालकों में अवनि चतुर्वेदी, भावना कंठ और मोहना सिंह के नाम शामिल हैं।

कौन कहा से महिला पायलट

मोहना जहां राजस्थान के झुंझुनूं जिले की रहने वाली हैं

भावना कंठ बिहार के दरभंगा जिले की हैं

अवनि मध्य प्रदेश के सतना से ताल्लुक रखती हैं।

तीनों महिलाओं को हैदराबाद के नजदीक एयर फोर्स अकादमी से फ्लाइंग कोर्स करने के बाद पिछले साल जुलाई में फ्लाइंग ऑफिसर के रूप में कमिशन मिला है। महिला पायलट परिवहन विमान और हेलिकॉप्टर उड़ाती रही हैं, लेकिन उन्हें किसी कॉम्बैट ऑपरेशन में सक्रिय भूमिका नहीं दी गई थी।

अभी हॉक जेट उड़ा रही हैं

तीनों महिला विमान चालकों के प्रशिक्षण से जुड़े वायुसेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अभी तीनों महिला विमान चालक हॉक अडवांस्ड जेट ट्रेनर उड़ा रही हैं। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
world saw air force power of india on 85th anniversary air force day

-Tags:#Indian Air Force#BS Dhanova#Hindon airbase
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo