Breaking News
Top

बाढ़ से मिलकर निपटेंगे भारत-नेपाल: उमा भारती

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 21 2017 2:06AM IST
बाढ़ से मिलकर निपटेंगे भारत-नेपाल: उमा भारती

केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने कहा कि देश के पूर्वोत्तर और पूर्वी राज्यों में बाढ़ के कारण होने वाली तबाही को कम करने के लिए भारत व नेपाल मिलकर संयुक्त रूप से विभिन्न भंडारण बांधों की योजना बनाई जाएगी, जिसके लिए नेपाल सरकार के साथ बातचीत की जा रही है।

उन्होंने यहां देश के विभिन्न राज्यों में बाढ़ के विकराल रूप लेने से हो रही जान-माल की हानि के मद्देनजर बाढ़ की स्थिति और राहत तथा पुनर्वास जैसे राष्ट्रीय स्तर पर उठाए जा रहे कदमों की समीक्षा करने के बाद कहा कि।

इसे भी पढ़े:- मिनटों में टॉप पर पहुंचा देगी दुनिया की ये सबसे ऊंची लिफ्ट

पूर्वोत्तर और पूर्वी राज्यों खासकर बिहार में बाढ़ से जान-माल के खतरे को कम करने की दिशा में भारत सरकार विभिन्न स्तरों पर नेपाल सरकार के साथ लगातार बातचीत कर रही है, ताकि संयुक्त रूप से विभिन्न भंडारण बांधों की योजना बनाकर नेपाल से आने वाली नदियों से बाढ़ की वजह से होने वाली तबाही कम की जा सके।

उन्होंने शारदा नदी पर पंचेश्वर बहुउद्देशीय परियोजना, सप्त कोसी उच्च बांध परियोजना और सन कोसी भंडारण-सह-डायवर्जन योजना सप्त कोसी बेसिन की प्रस्तावित परियोजनाओं का जिक्र भी किया।

इसे भी पढ़े:- जानिए, जमीन के नीचे बसे इस अनोखे शहर के बारे में

सुश्री उमा भारती ने कहा कि मंत्रालय की एक समिति ने ब्रह्मपुत्र बेसिन के लिए सियांग में 9.2 बीसीएम, दीबंग में 0.6 बीसीएम, लोहित में 1.61 बीसीएम और सुबनसिरी उप बेसिनों में 1.91 बीसीएम की भंडारण आवश्यकताओं का आकलन किया है। एकल-चरण सियांग अपर बहुउद्देशीय भंडारण का निर्माण करने के प्रस्ताव पर मंत्रालय सक्रियतापूर्वक विचार कर रहा है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
uma bharti says indo nepal will deal together floods

-Tags:#India#Nepal#Bihar#flood#Uma Bharti
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo