Breaking News
Top

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट में नहीं मिला इन तीन बड़े सवालों का जवाब

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 22 2017 11:09AM IST
तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट में नहीं मिला इन तीन बड़े सवालों का जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार करते हुए तीन तलाक को भारत से हमेशा हमेशा के लिए खत्म कर दिया है। कोर्ट ने केंद्र सरकार से इस दौरान कानून बनाने के लिए कहा है।

इसके साथ ही उन तीन बड़े सवालों का भी जवाब नहीं मिला जिसमें यह तय होना था कि मुस्लिम धर्म में तीन तलाक मान्य है या नहीं। इन तीन बड़े सवालों के जवाब मिलते तो मुस्लिम महिलाओं की जिंदगी आबाद होती...

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिला इन तीन सवालों का जवाब...

-तलाक-ए बिद्दत यानी एक बार में तीन तलाक और निकाह हलाला धर्म का अभिन्न अंग है या नहीं?

-क्या इन दोनों मुद्दों को महिला के मौलिक अधिकारों से जोड़ा जा सकता है या नहीं?

-क्या कोर्ट इसे मौलिक अधिकार करार देकर कोई आदेश लागू करा सकता है या नहीं?

इसे भी पढ़ें: तीन तलाक: ये पञ्च परमेश्वर करेंगे फैसला, जानिए इनकी पूरी कहानी

तीन तलाक पर ये अलग-अलग धर्म के पांच जज देंगे फैसला

सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की संविधान पीठ में पांचों जज अलग-अलग धर्म के हैं। इन जजों में मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर (सिख), जस्टिस कूरियन जोसेफ (ईसाई), आरएफ नारिमन (पारसी), यूयू ललित (हिंदू) और अब्दुल नजीर (मुस्लिम) हैं। सुप्रीम कोर्ट के जज किसी भी मजहब के हों वो अदालत में फैसले सिर्फ और सिर्फ भारतीय संविधान की रोशनी में लेते हैं।

इसे भी पढ़ें: 3 तलाक की दर्दनाक कहानी बयां करते हैं ये तथ्य

तीन तलाक पर कोर्ट में केन्द्र ने रखे थे ये सवाल

1. धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकार के तहत तीन तलाक, हलाला और बहु-विवाह की इजाजत संविधान के तहत दी जा सकती है या नहीं ?

2. समानता का अधिकार और गरिमा के साथ जीने का अधिकार और धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकार में प्राथमिकता किसको दी जाए?

3. पर्सनल लॉ को संविधान के अनुछेद 13 के तहत कानून माना जाएगा या नहीं?

4. क्या तीन तलाक, निकाह हलाला और बहु-विवाह उन अंतरराष्ट्रीय कानूनों के तहत सही है, जिस पर भारत ने भी दस्तखत किये हैं?

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
triple talaq supreme court verdict three big questions islam quran

-Tags:#triple talaq#supreme court#verdict#three big questions#islam#quran#muslim women
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo