Hari Bhoomi Logo
बुधवार, नवम्बर 22, 2017  

फ़ोटो गैलेरी

बेटियों की अस्मत तार-तार, ये 10 दास्तां बस अक्टूबर महीने की हैं
सड़क के दोनों के ओर लोग पैदल चल रहे थे। बायीं ओर एक पेड़ की ओर निगाह सबकी जा रही थी, पर किसी का कदम नहीं ठहरा। कुछ लोग एकदम करीब से गुजरे, घूरते रहे लेकिन एक बार भी उस शैतान को झिड़ककर उस बेसहरा लड़की से दूर नहीं किया, जिसके जिस्म को वो रौंद रहा था। वह शराबी था। नशे में था। कोकीन, चरस या अफीम लेता था। पहले भी ऐसे ही था। इन सब दलीलों से क्या मायने हैं? विशाखापट्टनम जैसी जगह में इस घटना और वहां के तमाशबीन क्या जताना चाहते हैं? खाली अक्टूबर महीने की इन घटनाओं को जानकर पूरा शरीर क्रोध से कांप जाएगा। कुछ करिए इन शैतानों का!
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo