Hari Bhoomi Logo
रविवार, सितम्बर 24, 2017  
Breaking News
बीएचयू कैंपस के अंदर पहुंची पुलिस, छात्रों का हंगामा हुआ तेजबीएचयू: छात्र प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस नेता पी.एल पुनिया, राज बब्बर और अजय राय को पुलिस ने रोकादिल्ली तक पहुंची बीएचयू की आग, यूथ कांग्रेस ने जमकर किया प्रदर्शनदिल्ली तक पहुंची बीएचयू की आग, यूथ कांग्रेस ने जमकर किया प्रदर्शनप्रद्युम्न मर्डर केस: आरोपी ड्राइवर अशोक को 14 दिनों की न्यायिक हिरासतलखनऊ: सोमवार सुबह 11 बजे मुलायम सिंह यादव करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंसबीएचयू: छात्राओं ने किया छेड़खानी का विरोध, पुलिस ने बरसाई लाठियांजम्मू-कश्मीर के बारामूला स्थित उड़ी सेक्टर में रात से ही सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है
Top

अहमद पटेल को जिताने के लिए कांग्रेस को खर्च करने पड़े लाखों रुपए, करनी पड़ी दिन-रात मेहनत

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 9 2017 2:15PM IST
अहमद पटेल को जिताने के लिए कांग्रेस को खर्च करने पड़े लाखों रुपए, करनी पड़ी दिन-रात मेहनत
मंगलवार 8 अगस्त को गुजरात राज्य सभा की तीन सीटों के लिए चुनाव हुए जिसमें भारतीय जनता पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं को जीत मिली और 1 सीट कांग्रेस के खाते में आई। 
 
 
गुजरात में बीजेपी की जीत तो पहले से ही सुनिश्चित थी क्यों कि वहां भाजपा के 122 विधायक हैं। लेकिन कांग्रेस की जीत पर कई सवाल थे। 
 
जिसका कारण था कि जब से गुजरात में राज्य सभा चुनाव का ऐलान हुआ था तब से कांग्रेस के कई बड़े नेताओं ने किनारा कर लिया था।
 
जिस वजह से कांग्रेस नेता अहमद पटेल की जीत को ले कर काफी आशंकाएं हैं। भले ही कांग्रेस राज्यसभा में 1 सीट पाने में कामयाब रही हो लेकिन इसके लिए न उसने काफी मेहनत की बल्कि 35-40 लाख रुपये का चुनावी खर्च भी किया। 
 
बता दें कि बीजेपी ने गुजरात राज्य सभा की तीसरी सीट के बलवंत सिंह राजपूत को समर्थन दे दिया था जिस वजह से अहमद पटेल की जीत की दावेदारी कमजोर पड़ गई थी। 
 
उल्लेखनीय है कि बलवंत सिंह राजपूत पहले कांग्रेस के नेता थे जो कि बाद में बीजेपी में शामिल हो गए थे। 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
to secure ahmed patel seat in rajya sabha congress work hard and spent lakhs

-Tags:#Gujrat News#Congress#BJP
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo