Breaking News
Top

राष्ट्रीय के विकास की बात करने वालों को अरुण जेटली का करारा जवाब

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 1 2017 2:47PM IST
राष्ट्रीय के विकास की बात करने वालों को अरुण जेटली का करारा जवाब

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रविवार को देश की अर्थव्यस्था को लेकर बयान दिया। जेटली ने कहा कि जो लोग देश के विकास की बात करते है, वो पहले अपनी जरुरत के हिसाब से पैसा तो जमा करें। उन्होंने आगे कहा कि लेकिन यह पैसा ईमानदारी से खर्च होना चाहिए। 

अरुण जेटली ने फरीदाबाद में एनएसीआईएन के स्थापना दिवस के मौके पर भारतीय राजस्व अधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राजस्व किसी भी सरकार की लाइफलाइन होता है और भारत में विकासशील से अर्थव्यवस्था का विकास हुआ है। 

उन्होंने आगे कहा कि समाज में जो लोग गैर टैक्स की शिकायत नहीं करते थे, लेकिन अब लोग महसूस कर रहे हैं कि समय बितने के साथ ही वो चीज सामने आती है। टैक्स एकीकरण के लिए यह कारण है। 

पहला बदलाव इसके स्थित होने का है। हमारे पास संसाधनों और जगह की कोई कमी नहीं है। और दूसरी तरफ हम कमाई के मामले में तटस्थ बने है। हमे अच्छे सुधार के लिए सोचना चाहिए। 

ये भी पढ़ें -   जेटली जैसा स्ट्रेट फॉरवर्ड बंदा आजतक नहीं देखा  

उन्होंने टैक्स को लेकर कहा कि भारत इस वक्त इनडायरेक्ट टैक्स की तरफ चल रहा है। कुछ वर्ग ही है जो डायरेक्ट टैक्स देता है जबकि इनयारेक्ट टैक्स सभी के ऊपर एक बोझ है। इसलिए हमें राकोषीय नीति के लिए तय करना होगा कि इसमें कुछ नियमित चीजों को टैक्स के दायरे में लाया जाए। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
those demanding development must pay what is required says arun jaitley

-Tags:#Arun Jaitley#GST#TAX#NACIN#IRS
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo