Breaking News
Top

म्यांमार पर तीसरी सर्ज‌िकल स्ट्राइक, 'ऑपरेशन गोल्डन बर्ड' में हुई थी सबसे बड़ी तबाही

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 27 2017 4:41PM IST
म्यांमार पर तीसरी सर्ज‌िकल स्ट्राइक, 'ऑपरेशन गोल्डन बर्ड' में हुई थी सबसे बड़ी तबाही

 म्यांमार पर यह भारतीय सेना की यह तीसरी सर्ज‌िकल स्ट्राइक है। यह  पहला मौका नहीं है जब भारतीय सेना ने म्यांमार में घुसकर उग्रवादियों को तबाह किया है, इससे पहले सेना दो बार सर्ज‌िकल स्ट्राइक कर चुकी है। 

म्यांमार पर तीसरी सर्ज‌िकल स्ट्राइक 27 सितंबर 2017

भारतीय सेना की म्यांमार पर हालिया सर्जिकल स्ट्राइक बुधवार को की गई। जानकारी के मुताबिक सेना की एक टुकड़ी बुधवार तड़के ही भारत-म्यांमार बॉर्डर पहुंच गई थी।


सार्वाधिक पढ़ी गई खबरः 100 रुपए में जियो का ये धमाकेदार प्लान उड़ा देगा सबके छक्के

वहां सेना को देखते ही उग्रवादियों ने उस पर हमला बोल दिया। सेना पहले से पूरी तैयारी में थी। सामने से हमला होते ही सेना ने जवाबी कार्रवाई में उग्रवादियों को तबाह कर दिया।

पूरी सर्ज‌िकल स्ट्राइक में किसी भी भारतीय सेना के जवान को कोई क्षति नहीं पहुंची। सेना से मिली जानकारी के मुताबिक इस दौरान सेना ने म्यांमार बॉर्डर पार नहीं किया।'

म्यांमार पर दूसरी सर्ज‌िकल स्ट्राइक जून 2015

27 सितंबर 2017 यानी बुधवार को म्यांमार पर हुई भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक से पहले जून 2015 में भारत ने म्यांमार पर सर्ज‌िकल स्ट्राइक की थी।

तब भारत भारतीय सेना म्यांमार सीमा में घुस गई थी। वहां जाकर पूर्वोत्तर के उग्रवादी गुट एनएससीएन (के) के शिविरों को तबाह कर दिया ‌था। हालांकि तब इस बार में मीडिया में ज्यादा जानकारियां नहीं आ पाई थी।


सार्वाधिक पढ़ी गई खबरः वाराणसी में आज भी नरक की जिंदगी जी रही हैं 3000 वेश्‍याएं

बाद में मिली जानकारियों के मुताबिक उस वक्त सेना की 12 पैरामिलिट्री फोर्सेस ने भारत-म्यांमार की अंतरराष्ट्रीय सीमा के पिलर 151 के पार जाकर चेन मोहो गांव के पास उग्रवादियों को तबाह किया ‌था।

म्यांमार पर पहली और सबसे सर्जिकल स्ट्राइक साल 1995

म्यांमार पर भारत की सेना ने पहली सर्जिकल स्ट्राइक साल 1995 में ही कर दी थी। लेकिन भारतीय सेना ऐसी जानकारियां आम नहीं करती थी। माना जाता था कि ये बातें छुपाने योग्य हैं।


सार्वाधिक पढ़ी गई खबरः राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत मुंबई से गिरफ्तार, पुलिस ने झाड़ा पल्ला

जानकार बताते हैं कि असल में यह सर्ज‌िकल अब तक भारत की सबसे बड़ी सर्ज‌िकल स्ट्राइक थी। उस वक्त सेना ने म्यांमार में घुस कर उग्रवादियों के कैम्प बर्बाद करने के लिए ऑपरेशन गोल्डन बर्ड चलाया गया था।

ऑपरेशन गोल्डन बर्ड में कुल 40 उग्रवादियों का खत्मा किया गया था। इसे कुछ लोग सर्च एंड हंट ऑपरेशन नाम से भी जानते हैं।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
surgical strike on myanmar army crosses border thrice to target militants in past

-Tags:#surgical strike#myanmar border#myanmar news
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo